प्रेम-प्रसंग के चलते युवक-युवती ने की फासी लगाकर आत्महत्या

रायपुर/धमतरी। अर्जुनी थाना क्षेत्र में रविवार देर रात बबूल के पेड़ से युवक-युवती का शव लटका हुआ मिला है। पुलिस ने युवती की शिनाख्त कर ली है। वह दो दिनों से घर से लापता थी। हालांकि युवक के बारे में अभी नहीं पता चल सका है। युवती की मांग में सिंदूर था, ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि दोनों प्रेमी युगल थे। 

अर्जुनी थाना क्षेत्र के शंकरदाखार में रविवार देर रात करीब 10 बजे ग्रामीणों ने महानदी मुख्य नहर के किनारे बबूल के पेड़ से लटके हुए दो शव देखे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को नीचे उतारा तो पता चला कि युवती की मांग में सिंदूर था। पुलिस ने आस-पास के लोगों से शव की पहचान कराने का प्रयास किया, लेकिन कुछ पता नहीं चल सका। इसके बाद पुलिस ने सोशल मीडिया और अलग-अलग थानों में युवक व युवती की फोटो भेजी। जिससे युवती की पहचान दुर्ग जिले के उतई थाना क्षेत्र के मचांदुर चौकी कानाकोट निवासी दिव्या यादव (22) पुत्री भुजबल यादव के रूप में हुई है। वहीं यह भी पता चला है कि युवक भुजबल के ससुराल पक्ष का ही है। हालांकि उसकी पहचान नहीं हो सकी है।  पुलिस की सूचना पर पहुंचे भुजबल ने बताया कि दिव्या बीएससी सेकेंड ईयर की छात्रा थी और वह शनिवार सुबह से गायब थी। जब रात तक भी उससे संपर्क नहीं हो पाया उतई थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। उन्होंने बताया कि युवक उनकी ससुराल चीखली दुर्ग के पक्ष का है। हालांकि वह उसे पहचानते नहीं है। ऐसे में पुलिस ने अब आगे की कार्रवाई के लिए दुर्ग पुलिस से संपर्क कर रही है।

 

error: Content is protected !!