प्रशासन अकादमी में प्रशिक्षु अधिकारियों ने दिखाई अपनी सांस्कृतिक प्रतिभा

०० महिला अधिकारियों ने परिसर मे सजाई रंगोली, राजस्थान के घूमर नृत्य की दी शानदार प्रस्तुति

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रशासन अकादमी निमोरा में प्रतिदिन शासकीय नियम, प्रकिया और उससे जुड़ी गतिविधियों का प्रशिक्षण दिया जाता है। राज्य की सेवा के लिए चयनित अधिकारी यहां रहकर छ: सप्ताह का आधारभूत प्रशिक्षण लेते हैं। अलग-अलग पृष्ठभूमि से राज्य की शासकीय सेवा में आए अधिकारियों को जब किसी मंच से अपनी साहित्यिक, सांस्कृतिक प्रतिभा दिखाने का अवसर मिले तो ये दिन उनके लिए यादगार बन जाता है । 23 अगस्त की शाम बौद्धिक सहज परिवेश में, सांस्कृतिक कार्यक्रम से नई उर्जा का संचार हुआ। महिला अधिकारियों ने परिसर मे रंगोली सजाई वहीं दूसरी ओर राजस्थान के घूमर नृत्य की शानदार प्रस्तुति की ।
प्रशासन अकादमी में फैकल्टी के रूप मे पढ़ाने वाले राज्य के वरिष्ठ अधिकारी भरत अग्रवाल जो सत्तर साल की उम्र है ने शानदार डांस की प्रस्तुति कर समां बांधा । कार्यक्रम की शुरूआत सरस्वती वंदना से हुई। इस दौरान अकादमी के महानिदेशक रेणु पिल्ले और अधिकारियों ने दीप प्रज्वलित किया । डिप्टी कलेक्टर दिव्या वैष्णव और सहायक आयुक्त, शारदा मिश्रा ने कार्यक्रम का संचालन किया । कार्यक्रम के दौरान रोली शुक्ला , अरूण सोम , आलेख सिदार , विजय राजपूत , मोहित जायसवाल, प्रशांत शुक्ला, विशाखा और सुखना राम भगत ने गाना गाया। रामकृष्ण मिश्रा, डॉ बीरेन्द्र साहू, दुर्गेश पांडेय और अमृता भगत ने कविता पाठ किया। समूह नृत्य में पूजा बंसल, शीतल बंसल, ज्योति बबली बैरागी, हिमांचल साहू, कौशल तेंदुलकर और प्रवेश पैकरा ने भाग लिया। देश की महिमा को दर्शाते हुए प्रीति दुर्गम, हितेश्वरी बाघे, दिव्या वैष्णव और आशुतोष डडसेना ने समूह नृत्य प्रस्तुत किया। साथ ही दिव्या वैष्णव की ओर से एकल नृत्य की शानदार प्रस्तुति दी गई । आशुतोष डडसेना ने स्वच्छता पर एकल नाटक प्रस्तुत किया। अकादमी की ओर से सुभाष मिश्र ने सभी का आभार व्यक्त किया।

error: Content is protected !!