भाजपा का अहंकार बना भाजपा का सबसे बड़ा शत्रु : कांग्रेस

०० प्रदेश का राजनीतिक वातावरण भारतीय जनता पार्टी के है खिलाफ

०० कांग्रेस विधायक दल के नेता का कार्यालय होगा मुख्यमंत्री कार्यालय

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि प्रदेश का राजनीतिक वातावरण भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ है चाहे किसी न्यूज़ चैनल की बात हो या समाचार पत्रों की बात हो या एजेंसियों के द्वारा किए जा रहे सर्वे में भाजपा की सीटें 20 से 30 के बीच ही आ रही है। भाजपा का आंतरिक सर्वे भी यही बात कहता है। हम कांग्रेस के लोग सिर्फ बहुमत प्राप्त करने के सर्वे से संतुष्ट नहीं हैं। हम सिर्फ इससे शांत और संतुष्ठ होकर बैठने वाले नहीं हैं। हम कांग्रेस के कार्यकर्ता अपनी मेहनत और बढ़ाएंगे और सुनिश्चित करेंगे कि भारतीय जनता पार्टी ने बेहद घमंड के साथ जिस कांग्रेस मुक्त भारत की बात करती थी, वह तो भाजपा नहीं कर सकी लेकिन अब मतदाता भाजपा से नाराज है। भाजपा ने कांग्रेस मुक्त भारत की बात करके जो अहंकार प्रदर्शित किया था और विपक्ष के खात्मे की अलोकतांत्रिक मंशा व्यक्त की थी, आज वही भाजपा तीनों राज्यों और खासकर छत्तीसगढ़ के संभावित चुनाव परिणामों से भयभीत है, आशंकित है। भाजपा का अहंकार आज भाजपा का ही सबसे बड़ा शत्रु बन गया है और कांग्रेस अपने संघर्ष और विनम्रता के कारण आगे खड़ी है। तीनों राज्यों में सभी लोग कांग्रेस के साथ खड़े है।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि दरअसल सभी सर्वे में जो परिणाम आ रहे हैं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जी के छत्तीसगढ़ दौरे को जो सफलता मिली है और जिस तरीके से छत्तीसगढ़ में भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ और कांग्रेस के पक्ष में वातावरण बना है इन सब से बौखला कर भारतीय जनता पार्टी इस प्रकार का विवाद खड़ा करना चाह रही है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी को कांग्रेस नेताओं के बीच विवाद कराने की कोशिशों में कोई सफलता नहीं मिलेगी। छत्तीसगढ़ में और देश में पूरी कांग्रेस एकजुट है।  कांग्रेस विधायक दल के नेता के बैठने के स्थान को लेकर कांग्रेस के कुछ शुभचिंतकों द्वारा व्यक्त भावनाओं पर प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पत्रकारों के सवालों के जवाब में कहा है कि कांग्रेस विधायक दल के नेता का कार्यालय अब मुख्यमंत्री का कार्यालय होगा। चाहे एबीपी न्यूज़ चैनल का सर्वे हो या पत्रिका समाचार पत्रों का सर्वे हो या भारतीय जनता पार्टी का आंतरिक सर्वे हो या अन्य चैनलों का समाचार पत्रों और एजेंसियों का सर्वे हो, एक बात उभर कर सामने आ रही है कि नवंबर 2018 के विधानसभा चुनावों में छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनेगी। कांग्रेस की सरकार बनने पर कांग्रेस विधायक दल के नेता का कार्यालय मुख्यमंत्री कार्यालय होगा। कांग्रेस के शुभचिंतक बनने का दिखावा करने वाले लोग कांग्रेस विधायक दल के नेता के कार्यालय के स्थान की चिंता अब और ना करें। तीन राज्यों के चुनाव होने जा रहे हैं राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश। इसके बाद लोकसभा के चुनाव होने है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी नेकहा है कि भारतीय जनता पार्टी की पूरी एक्सरसाइज इन तीन राज्यों के चुनाव को टालने की है, क्योंकि भाजपा को छत्तीसगढ़ सहित तीनों ही राज्यों में आसन्न हार सामने दिख रही है इसलिए इन तीन राज्यों के चुनाव टालने के लिए भाजपा के द्वारा वन नेशन, वन इलेक्शन की बात प्रतिपादित की जा रही है। यदि किसी राज्य के चुनाव में किसी एक दल को बहुमत नहीं मिलता और वहां मध्यावधि चुनाव की स्थिति बनेगी तो क्या होगी? वन नेशन वन इलेक्शन की अवधारणा को सबसे पहले देश की संवैधानिक प्रक्रिया और संवैधानिक प्रावधानों की कसौटी पर कसा जाना चाहिये। सबसे पहले इन सारी संभावनाओं में क्या होगा, इस पर चर्चा होनी चाहिए। वन नेशन वन इलेक्शन के प्रस्ताव पर सारे राजनीतिक दलों की समाज के सभी वर्गों की राय लेकर ही कोई फैसला किया जाना चाहिए। भारतीय जनता पार्टी वन नेशन वन इलेक्शन देश पर थोपने का प्रयास कर रही है। भाजपा का यह प्रयास सफल नहीं होगा। वन नेशन वन इलेक्शन का अभी तक चर्चाओं में ही है। यदि कोई फार्मूला या प्रस्ताव आयेगा तो कांग्रेस पार्टी इसके बारे में अपने दृष्टिकोण का फैसला करेगी। वन नेशन वन इलेक्शन देश के वर्तमान संवैधानिक प्रावधानों के अनुरूप संभव नहीं है, यह स्पष्ट है। छत्तीसगढ़ सहित तीनों राज्यों में चुनाव टालने की भाजपा की कोशिशों पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि यदि भाजपा को इन तीन राज्यों के चुनाव लोकसभा चुनाव के साथ कराने की इतनी ही त्वरा है तो मोदी सरकार त्यागपत्र देकर नवंबर में लोकसभा चुनावों का मार्ग प्रशस्त करें। भाजपा तीनों राज्य मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ में विधानसभा भी होगी, लोकसभा चुनावों में भी भाजपा की हार होगी। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि नए डेवलपमेंट ब्लॉक्स की बात भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने बार-बार दिखावे के लिये की है। नये ब्लाकों के नामों को मीडिया में भी चला लेकिन उसके बाद भारतीय जनता पार्टी की सरकार सोती रही। इस दिशा में भाजपा सरकार द्वारा कुछ भी नहीं किया गया अब जब 5 साल बीतने को आ रहे हैं, तब भी भारतीय जनता पार्टी की निष्क्रियता बनी हुयी है। कांग्रेस संगठन ने जिन नये ब्लॉकों की घोषणा की है कांग्रेस के घोषणा पत्र में नए जिलों के गठन के साथ-साथ इन सभी स्थानों में नए ब्लॉक बनाने का स्पष्ट रूप से प्रावधान होगा। यह हमारी घोषणा होगी, यह हमारा संकल्प होगा जो भारतीय जनता पार्टी अभी तक नहीं कर सकी उसे कांग्रेस करके दिखायेगी।

 

error: Content is protected !!