बिना डिग्री बंगाली झोलाछाप डॉक्टर कर रहे ग्रामीणों का इलाज

०० स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से झोलाछाप डॉक्टरो का फल-फुल रहा कारोबार

०० झोलाछाप डॉक्टरो की लापरवाही से ग्रामीण क्षेत्र में हो रही है घटनाएं

 

संजू चौहान 

बिलासपुर|  क्षेत्र में एक बार फिर झोलाछाप डॉक्टरो ने अपना पैर पसारना शुरू कर दिया है| प्रदेश में आए दिन झोलाछाप डॉक्टरो की गलत इलाज से लोगों की जाने जा रही है वही झोलाछाप बंगाली डॉक्टर की गलत इलाज से गरीबो पर अत्याचार हो रही है|

सीपत रोड खाडा में बेचारे गांव वासियों यह सोचकर झोलाछाप डॉक्टर से के पास चले जाते हैं कि हमारी अच्छी इलाज होगी पर उनको क्या मालूम कि अच्छी इलाज नहीं बस पैसों की लालच से कर रहे हैं वही  गलत इलाज  करनबे वाले झोलाछाप डॉक्टर शिकायत करने पर भी बाज नहीं आ रहे है| इसी मामले पर बीते दिनों सीपत रोड खाडा के बंगाली झोलाछाप डॉक्टर के क्लिनिक की जानकारी लेते वक्त मीडिया कर्मी को भी बंगाली झोलाछाप डॉक्टर से यह जवाब मिलती है  जो करना है कर लो, जो छापना है छाप लो!

झोलाछाप डॉक्टर की गलती पर पुलिस मामला भी दर्ज करती है जांच का दावा करती है और पीड़ित के  घर में मातम की ठंडी भी नहीं होने पाती की बंगाली झोलाछाप डॉक्टरों की दुकानें फिर से सज जाती है| इस लापरवाही के लिए जितना जिम्मेदार स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी है उतने ही जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन के अधिकारी भी है उनकी आंखों के सामने मौत की दुकान रोज खुली और बंद होती है लेकिन वह लोग इस पर लगाम लगाने के लिए कोई कदम नहीं उठाते हैं|

 

error: Content is protected !!