संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के सदस्यों को भाया जंगल सफारी

०० विधानसभा और मंत्रालय में जाना-समझा विधायिका तथा कार्यपालिका के कार्यों को

रायपुर| राजधानी रायपुर के अध्ययन भ्रमण पर आए संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के सदस्यों को नया रायपुर के जंगल सफारी ने खासा रोमांचित किया। उन्होंने यहां वन्य प्राणियों को खुले में विचरते देखा। बैटरीचलित वाहन में बैठकर उन्होंने बाघ, सिंह और भालू सहित हिरणों की अनेक प्रजातियां देखी। प्रतिनिधि छत्तीसगढ़ विधानसभा और मंत्रालय का भ्रमण कर विधायिका एवं कार्यपालिका के कार्यों से रू-ब-रू हुए। विधानसभा के अधिकारियों ने उन्हें विधानसभा की प्रक्रियाओं और संसदीय व्यवस्था की जानकारी दी।

हमर छत्तीसगढ़ योजना के तहत पांच जिलों से संयुक्त वन प्रबंधन समिति के 580 सदस्य दो दिनों की अध्ययन यात्रा पर रायपुर आए हैं। इनमें जशपुर के 163, बलरामपुर-रामानुजगंज के 128, बस्तर के 109, बीजापुर के 94 और महासमुंद के 86 सदस्य शामिल हैं। प्रतिनिधियों ने रायपुर और नया रायपुर के अनेक स्थानों का भ्रमण कर प्रदेश के विकास को नजदीक से देखा। इस दौरान उन्होंने छत्तीसगढ़ विधानसभा, मंत्रालय एवं जंगल सफारी के साथ ही इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, साइंस सेंटर, शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम और पुरखौती मुक्तांगन का भ्रमण किया। संयुक्त वन प्रबंधन समिति के सदस्यों ने अध्ययन प्रवास के पहले दिन नया रायपुर के राजधानी सरोवर में संगीतमय फव्वारे का आनंद लिया। उन्होंने दूसरे दिन हमर छत्तीसगढ़ योजना के आवासीय परिसर, नया रायपुर के उपरवारा स्थित होटल प्रबंधन संस्थान में छत्तीसगढ़ के लोकजीवन और संस्कृति पर आधारित सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देखीं। आवासीय परिसर में दोनों दिन प्रशिक्षण एवं सामूहिक चर्चा के जरिए उन्हें सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी दी गई। इस दौरान उन्होंने अपने-अपने कार्यों के अनुभव भी एक-दूसरे से साझा किए।

error: Content is protected !!