मुख्यमंत्री का ‘जिओ लो, वोट दो’ नही, जोगी का ‘वोट दो, नौकरी लो’ फार्मूला चलेगा : अमित जोगी

०० लुटो खज़ाना, बुलाओ करीना और कंगना‘, यही है रमन सरकार की नीति: अमित जोगी

०० यूपी में सैमसंग प्लांट लगा सकता है तो छत्तीसगढ़ में जिओ क्यों नही ? 

रायपुर| चुनाव पूर्व छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा 51 लाख मोबाइल फ़ोन बांटने को मरवाही विधायक अमित जोगी ने रमन सरकार का सत्ता हाथ से जाने के डर का परिचायक बताया है। जोगी ने कहा कि जब कोई सरकार ‘बढ़ाने की जगह बाँटने’ के कार्य में लग जाये तो समझ लेना चाहिए कि जनता का सरकार पर से भरोसा उठ चुका है।

जोगी ने कहा कि इस बार के चुनाव में  ‘जियो लो, वोट दो’ के फार्मूले के सहारे सत्ता में  वापसी का सपना देख रहे मुख्यमँत्री को जनता सबक सिखाएगी। इस बार छत्तीसगढ़ में जोगी जी का फार्मूला ‘वोट दो, नौकरी लो’ काम करेगा। प्रदेश के 30 लाख बेरोजगार युवाओं को फ़ोन से ज्यादा नौकरी की आवश्यकता है| जोगी सरकार बनते ही स्थानीय युवाओं को सरकारी एवं गैर सरकारी पदों पर 90% आरक्षण मिलेगा एवं साथ ही  छत्तीसगढ़ की औद्योगिक नीति में बदलाव कर नए प्लांट एवं नए निवेश लाये जाएंगे। जिओ कंपनी से फ़ोन खरीदने के बदले हुई डील पर सवाल करते हुए अमित जोगी ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने सैमसंग कम्पनी के फ़ोन खरीदने के बदले उन्हें उत्तर प्रदेश में निवेश करने को कहा। नतीजा यह हुआ कि सैमसंग ने अपनी विश्व की सबसे बड़ी यूनिट नोएडा में लगाई। इसके ठीक विपरीत , हमारे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने 51 लाख जिओ  फोन के बदले केवल अपनी कमिशमखोरी की परंपरा को आगे बढ़ाया। जोगी ने कहा कि जो लूटते हैं खज़ाना वही आड़ में बुलाते हैं करीना और कंगना।

 

error: Content is protected !!