हमने एक जनप्रिय नेता खो दिया  है: धरमलाल कौशिक

रायपुर। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने पूर्व मंत्री रामचंद्र सिंहदेव के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि आज हमने छत्तीसगढ़ के एक माटीपुत्र खो दिया है। जिनका सम्पूर्ण जीवन छत्तीसगढ़ के लोगों की बुनियादी आवश्यकओं के लिए समर्पित रहा। उन्होंने कहा कि अविभाजित मध्यप्रदेश से लेकर छत्तीसगढ़ के स्थापना तक पूर्व मंत्री स्व. रामचंद्र सिंहदेव का जो योगदान रहा है उसे कभी भुलाया नही जा सकता है। वे सदैव उम्र के इस पड़ाव में भी छत्तीसगढ़ राज्य के विकास के लिए संकल्पित रहे है और सदैव आम जीवन में एक प्रेरणा पात्र के रूप में याद किये जाएंगे। उन्होंने मृतात्मा की शांति की कामना की।

भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने जारी अपने वक्तव्य में कहा कि पूर्व वित्तमंत्री रामचंद्र सिंहदेव का हम सभी को छोड़कर जाना अपूर्णीय क्षति है। वास्तव में सिंहदेव कोरिया नरेश ही नही छत्तीसगढ़ नरेश थे। जिन्होंने आज के युग में भी राजनीति में अलग मिसाल पेश की, जहां केवल ईमानदारी एवं लगनशीलता की परकाष्ठा थी। रायपुर में उनके निवास के पास ही मेरा निवास होना, मेरे लिए अत्यंत सौभाग्य का विषय रहा। यदा-कदा मैं समय निकालकर उनके पास बैठकर मार्गदर्शन व जानकारी प्राप्त करता रहा। सार्वजनिक जीवन में ऐसे विद्वतजन की शुचिता व सादगी का मैं सदैव कायल रहुंगा। यही नही आज मुझे अत्यंत दुख के साथ यह कहना पड़ रहा है कि मैंने अपना एक गाइड खो दिया है। पूर्व मंत्री रामचंद्र सिंहदेव को राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री सौदान सिंह, प्रदेश संगठन महामंत्री पवन साय, प्रदेश महामंत्री संतोष पाण्डेय, गिरधर गुप्ता, सुभाऊ राम कश्यप व  प्रदेश प्रवक्ता शिवरतन शर्मा, श्रीचंद सुन्दरानी, सच्चिदानंद उपासने, भूपेन्द्र सवन्नी, संजय श्रीवास्तव सहित  पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने श्रध्दाजंलि दी है।

 

error: Content is protected !!