प्रदेश के पहले वित्त मंत्री व कोरिया नरेश रामचंद्र सिंहदेव का हुआ निधन

०० मध्यप्रदेश से अलग होकर छत्तीसगढ़ में सरकार बनी तो वित्त मंत्री थे रामचंद्र सिंहदेव

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पहले वित्त मंत्री और कोरिया के राजा कहे जाने वाले 88 वर्षीय रामचंद्र सिंहदेव का गुरुवार देर रात करीब 1.30 बजे निधन हो गया, उनका पार्थिव शरीर सुबह 11 बजे अंतिम दर्शन के लिए कांग्रेस भवन लाया गया। रामचंद्र सिंहदेव अविभाजित मध्य प्रदेश में भी कैबिनेट मंत्री रहे, वो कोरिया नरेश और कोरिया कुमार के नाम से भी विख्यात थे।

पिछले कुछ दिनों से उनका रायपुर के रामकृष्ण मिशन अस्पताल में उपचार चल रहा था। उन्हें बुधवार को सांस लेने में तकलीफ के कारण अस्पताल में दाखिल करवाया गया था। जहां उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था। उनकी तबीयत लगातार गंभीर बनी हुई थी। मध्यप्रदेश से अलग होकर छत्तीसगढ़ में जब पहली सरकार बनी तो रामचंद्र सिंहदेव वित्त मंत्री थे। उन्हें अर्थशास्त्र का जानकार माना जाता था। डाॅ सिंह देव की स्कूली शिक्षा राजकुमार कालेज से हुई है। उसके बाद आगे की शिक्षा के लिए वे इलाहाबाद विश्वविद्यालय पढ़ने गए। जहां पर उनके सहपाठी विश्वनाथ प्रताप सिंह व नारायण दत्त तिवारी रहे। साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह और पूर्व प्रधानमंत्री वी.पी सिंह उनके जूनियर रहे हैं। कोरिया राजघराने के रामचंद्र सिंहदेव ने 1967 में विधानसभा का चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। अविभाजित मध्यप्रदेश में एक ऐसा दौर भी आया था जब 1967 में चुनाव जीतने के बाद रामचंद्र सिंहदेव ने एक साथ 16 विभाग संभाले थे। यह उस वक़्त का रिकॉर्ड था। इसके बाद से वे अब तक 6 बार चुनाव जीतकर अविभाजित मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में विभिन्न महत्वपूर्ण मंत्री पदों पर आसीन रहे थे।

error: Content is protected !!