फसल बीमा व सूखा राहत का लाभ किसानों को देने कांग्रेसियो ने किया गौरेला तहसील का घेराव

०० बरसते पानी में केन्द्रिय मंत्री डा. चरण दास महंत व जिलाध्यक्ष विजय केशरवानी के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने सौपा ज्ञापन

बिलासपुर| प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष पूर्व केन्द्रिय मंत्री डा. चरण दास महंत व जिलाध्यक्ष विजय केशरवानी के नेतृत्व में जिला कांग्रेस कमेटी बिलासपुर ने गौरेला, मरवाही, पेण्ड्र्ा ब्लाॅक के साथ अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय गौरेला का घेराव जोरदार बरसात के बीच किया। बरसते पानी में संजय चौक गौरेला से हुंकार भरने के बाद वरिष्ठ कांग्रेस नेता चरणदास महंत ने कांग्रेसजनों व किसानों के साथ लगभग डेढ़ किलोमीटर तक पैदल मार्च किया किसानों ने राज्य सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन व नारेबाजी करते हुए एसडीएम कार्यालय का घेराव कर एसडीएम नूतन कंवर को महामहिम राज्यपाल के नाम का ज्ञापन सौंपकर यथाशीघ्र फसल बीमा व सूखा राहत का लाभ किसानों को देने की मांग की। 

किसानों के लिए खाद, बीज, कीटनाशक की कालाबाजारी व खराब गुणवत्ता, धान के समर्थन मूल्य से लेकर किसानों को फसल बीमा व सूखा राहत के नाम पर खुली ठगी का मुद्दा उठाते हुए पूर्व केन्द्रिय मंत्री व प्रदेश चुनाव संचालन समिति के अध्यक्ष डाॅ. चरण दास महंत ने भाजपा की केन्द्र व राज्य सरकार पर गौरेला के संजय चैक पर आयोजित किसान सभा में जमकर हमला बोला। महंत ने राज्य में कृत्रिम बीज संकट और बीजों के 40 प्रतिशत ही अंकुरित होने को राज्य सरकार का पहला फेलियर बताते हुए कहा कि किसानों के नाम पर झूठ की राजनीति देश के प्रधानमंत्री व प्रदेश के मुख्यमंत्री कर रहे हैं। बिलासपुर के किसानों का खून पसीना इनको पानी की तरह नजर आता है तभी तो राजनांदगांव के किसानों को 465 करोड़ से अधिक की बीमा राशि दी गयी और अधिक सूखाग्रस्त क्षेत्र बिलासपुर जिले को मात्र 80 करोड़ की राशि देकर इति श्री कर ली गयी। महंत जी ने उनके पास आयी महिला कृषक का उदाहरण देते हुए कहा कि इन्हें फसल बीमा के नाम पर 415 रू. 90 पैसा मिला है प्रति हेक्टेयर 43 हजार रू. का बीमा कराने वाली सरकार ने मनेन्द्रगढ़ क्षेत्र के किसानों को 85 पैसा व 40 पैसा तक की बीमा राशि दी है। क्या यह सरकार किसानों के खून पसीने का उपहास नहीं उड़ा रही है, किसानों के प्रति उदासीनता व शोषण की राजनीति करने वाले लच्छेदार भांषण देकर आपको भ्रमित करना चाहते हैं फिर से धोखा देना चाहते हैं आपको सतर्क रहने की जरूरत है। मोबाईल वितरण के नाम पर अपना झूठा प्रचार करने वाली भाजपा आप सभी से आपके खातों के नंबर व गोपनीय जानकारियां एकत्रित कर षड्यंत्र कर रही है, हमारे किसान भाईयों का घोषणा के अनुसार धान की कीमत 2400 रू. प्रति क्विंटल दे यह भाजपा सरकार हम कितने मोबाईल व संसाधन खरीद लेगें। महंगी बिजली व मंहगे कर्ज की बात करते हुए डाॅ. महंत ने कहा कि राहुल जी ने कोेटमी की सभा में ऐलान किया है कि कांग्रेस की सरकार बनते ही 10 दिनों मंे किसानों का कर्ज माफ किया जायेगा बिजली बिल हाफ कर दिया जायेगा और किसानों को ब्याज मुक्त ऋण की ब्यवस्था की जायेगी। डाॅ. महंत ने कहा कि कांग्रेस शासनकाल में किसानों की उपज बढ़ाने उनको संपन्न बनाने नहरों का जाल बिछाया गया किसानों को पानी दिया गया और भाजपा सरकार किसानों से पानी छिनकर उद्योगों को दे रही है। अपने केन्द्रिय मंत्री के कार्यकाल को याद करते हुए उन्होने कहा कि प्रदेश में प्रति वर्ष 50 हजार करोड़ की फल, सब्जी, मछली, दूध खराब हो जाता है जिसके लिए कांग्रेस की मनमोहन सरकार ने राज्य में दो मेगा फूड पार्क बनाने की योजना मंजूर की थी जिसमें प्रदेश के किसानों का यह कच्चा उत्पादन सुरक्षित रखा जा सके और इनका अवमूल्यन भी न हो लेकिन भाजपा की रमन सरकार ने इस जनहित की योजना को जमीन, बिजली, परमिशन आदि में उलझा कर रख दिया और जो एजेंसी काम करने आयी थी वह काम प्रारंभ नहीं कर सकी। किसानों की अनदेखी करने वाली इस सरकार ने सिपाही से लेकर कलेक्टर तक को शराब बेचने में लगा दिया है इनकी सक्रियता और प्राथमिकता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है। देश के प्रधानमंत्री कांगे्रस को मुस्लिम पुरूषों की पार्टी बताते हैं द्वेष फैलाने और धर्म के आधार पर लड़ाने की राजनीति करते हैं अपने वायदों और देश में विकास की बात क्यों नहीं करते यह आप सबको और देश प्रदेश की जनता को समझना है। जिला कांग्रेस विजय केशरवानी ने क्षेत्र के पिपराही गांव के आदिवासी किसान सुरेश मरावी की कर्ज से परेशान होकर  आत्महत्या के बाद राज्य सरकार द्वारा लीपापोती का मुद्दा उठाते हुए कहा कि जितनी सक्रियता सरकार किसानों की दर्दनाक मौत के मामले को दबाने मेें दिखाती है उतनी सक्रियता किसानों के हित में क्यों नहीं दिखायी जाती।  जिलाध्यक्ष ने क्षेत्र के किसानों और कांग्रेसजनों से आह्वान करते हुए कहा कि हमें  किसानों को सुरेश मरावी जैसी स्थिति से बचाने के लिए इस दमनकारी संवेदनहीन भाजपा सरकार को हटाकर किसानों और मजदूरों की सरकार बनानी है कांग्रेस की सरकार बनानी है। भाजपा के छल, लोभ की राजनीति और बहुरूपियों से सतर्क रहने की बात कहते हुए कहा कि हमें अपने जल, जंगल, जमीन, तालाब, नदियों की रक्षा के लिए आगे आना होगा। अन्नदाता किसानों को न्याय दिलाने के लिए आयोजित इस घेराव, प्रदर्शन और संघर्ष को किसानों का हक दिलाने तक जारी रखना है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता शैलेष पांडेय ने खराब मौसम के बाद भी किसानों के भारी संख्या में आंदोलन में भाग लेने को किसान जागरूकता का परिणाम बताते हुए कहा कि देश में जाति और धर्म के नाम पर राजनीति करने और लड़ाने वालांे को अब किसानों के परिश्रम और विकास का हिसाब देना होगा। किसानों की पार्टी कांग्रेस पार्टी है, मजदूर गरीबों की पार्टी है उनके हित के लिए संघर्ष करती है। सत्ताधारी दल भाजपा केन्द्र व राज्य में केवल कुछ पूंजीपतियों के विकास और हित साधने मे लगी है उसको किसानों के हितों से कोई लेना देना नहीं है।  संजय चैक गौरेला में आयोजित किसान सम्मेलन के दौरान बूंदा बांदी के बाद भी किसान और कांग्रेसजन बड़ी संख्या में डटे रहे तत्पश्चात् बरसते पानी में डाॅ. चरणदास महंत के नेतृत्व में कांग्रेसजनों व किसानों ने डेढ़ किलोेमीटर तक रैली निकालकर राज्य सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए एसडीएम कार्यालय का घेराव किया। बड़ी संख्या में मौजूद पुलिस बल से हल्की झूमाझटकी के बाद एसडीएम नूतन कंवर ने कार्यालय के बाहर आकर महामहिम राज्यपाल के नाम का ज्ञापन सौंपा। तीन घंटे चली किसान सभा को मरवाही ब्लाॅक अध्यक्ष मनोज गुप्ता, पेण्ड्र्ा अध्यक्ष प्रशांत श्रीवास, घनश्याम ठाकुर, गौरेला अमोल पाठक, अशोक शर्मा, इकबाल सिंह, नारायण शर्मा, सादेक खान, संध्या राव, सत्यनारायण तिवारी, ओमवती पेड्रो, कौशल्या ओटावी, गुलाब ंिसह राज, प्रमोद परस्ते, विवेक पोर्ते, अजीत सिंह श्याम, भानु ओटावी, उत्तम वासुदेव, बेचु अहिरेश, सुमन सिंह वाकरे, डाॅ. नरेन्द्र राय, उर्मिला राय, अमित पाठक, आदि ने भी संबोधित किया।  गौरेला के संजय चौक पर आयोजित सभा, घेराव व प्रदर्शन कार्यक्रम में शामिल प्रमुख कांग्रेसजनों व किसानों में जिला कांग्रेस प्रवक्ता अनिल सिंह चौहान, सहाना खान, सुखदेव सिंह ग्रेवाल, प्रदेश प्रतिनिधि अरूण सिंह चौहान, नफीस खान, अमन शर्मा, अवधेश गुर्जर, आदि प्रमुख रूप से शामिल थे। जिला कांग्रेस के महामंत्री व प्रवक्ता अनिल सिंह चौहान ने बताया कि पेण्ड्रा में एसडीएम कार्यालय के घेराव के बाद जिला कांग्रेस कमेटी 17 जुलाई मंगलवार को दोपहर 12 बजे से बेलतरा स्थित उप तहसील का घेराव प्रदेश चुनाव संचालन समिति के अध्यक्ष व पूर्व केन्द्रिय मंत्री डाॅ. चरण दास महंत व प्रमुख कांग्रेस पदाधिकारियों के नेतृत्व में कर महामहिम राज्यपाल के नाम का ज्ञापन सौंपकर किसानों को फसल बीमा व सूखा राहत की मांग करेगी। 

error: Content is protected !!