जनता काँग्रेस का प्रत्येक विधानसभा में अनोखा विरोध, कांग्रेस भाजपा की सांठगांठ और प्रदेश के मुद्दों पे चुपी पे कसा तंज

०० खा के दिल्ली का गुपचुपभाजपा-कांग्रेस वाले बैठें है चुप”.. इन नारों के साथ जनता को खिलाए गुपचुप, खोली रष्ट्रीय पार्टियों की पोल

०० प्रधानमंत्री से की गई 7 मांगो को जनता के बीच किया प्रचारित। उन मांगो पर दोनों पार्टियों की चुपी पर उठाए सवाल

बिलासपुर| जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के द्वारा पूरे प्रदेश में एक अनोखा प्रदर्शन किया गया। जिसके तहत स्थानीय नेताओं ने गुपचुप ठेले को शहर के प्रमुख चौको पर घुमा कर जनता को दोनों ही राष्ट्रीय दलों की गुपचुप साठगांठ को प्रचारित किया साथ ही प्रदेश के जनहित से जुड़े मुद्दों पर उनकी चुपी को भी आड़े हांथो लिया। इस कर्यक्रम के तहत जनता कांग्रेस ने दिल्ली में प्रधनमंत्री को दिए ज्ञापन में छत्तसीगढ़ की जनता के हितों में कई गई अपनी 7 मांगों को भी जनता के समक्ष रखा। और उन जनहित के मुद्दों पर अब तक भाजपा- कांग्रेस के चुपी वाले रवैये पर सवाल भी खड़े किए।

बिलासपुर जिले की समस्त विधानसभाओ में इस कर्यक्रम को किया गया। जिला मुख्यालय में इस कर्यक्रम का नेतृत्व बिलासपुर प्रत्याशी बृजेश साहू ने किया और इसकी अगुवाई लोकसभा सप्रभारी संतोष दुबे ने की । बृजेश साहू ने कहा कि की प्रदेश के दोनों ही राष्ट्रीय दल वोट छत्तीसगढ़ियों का लेते हैं और राजनीति दिल्ली की करते है। प्रदेश के हित से जुड़े मुद्दों और दोनों ही दल चुप बैठ जाते है। संतोह दुबे ने कहा कि हमने 7 मांगे प्रदेश से लेकर देश के नेतृत्व करता माननीय प्रधानमंत्री के समक्ष भी रखी हैं, किन्तु हम भली भांति जानते है कि ये दोनों राष्ट्रीय दल प्रदेश के हितों के साथ लगातार समझौता करते आ रहे है। चाहे आउट सोरसिंग में बाहर के लोगो को रोजगार और प्रदेश के बेरोजगारों को अनदेखा करना हो, या पोलावरम बांध में प्रदेश के आदिवासियों की बलि देकर दूसरे प्रदेश का साथ देना हो। ऐसे तमाम मुद्दों पर दोनों दल गुपचुप से साठ गांठ कर चुप हो जाते हैं जिसे अब छत्तीसगढ़ की जनता बर्दाश्त नही करेगी। जिला प्रवक्ता विक्रान्त तिवारी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की आम जनता जो कि दोनों ही राष्ट्रीय दलों की चुपी के कारण अपने अधिकारों से वंचित होती आई है, उनकी आवाज़ उनके अधिकार उनकी मांगें अब जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ माननीय अजित जोगी के नेतृत्व में पूरी करेंगे। प्रदेश के किसानों, नौजवानों,महिलाओ, व्यापारियों, और आम नागरिकों के अधिकारों की चिता पर राजनीतिक रोटी सेकने वाले ये दोनों ही राष्ट्रीय पर्टी भाजपा और कांग्रेस का गुपचुप गठबंधन अब उजागर हो चुका है। उनकी चुप्पी अब जनता समझ चुकी है। इसलिए जनता अब जनता कांग्रेस के साथ है। इस प्रदर्शन का मुख्य केंद्र इस दौरान लगये गए नारे भी रहे जिसमे..

“खा के दिल्ली का गुपचुप, भाजपा-कांग्रेस वाले बैठें है चुप”..

महिलाओ और युवाओं का इस ओर विशेष रुझान दिखा। उक्त कर्यक्रम में मुख्य रूप से बृजेश साहू,संतोष दुबे, मणिशंकर पांडेय,टिकेश प्रताप सिंह, समीर एहमद,विक्रान्त तिवारी, निलेष माड़ेवॉर,बबलू जॉर्ज, मार्ग्रेट बेंजामिन, संजीत बर्मन, राज बंजारे,विनोद बंजर, ललित भरद्वाज, राज बंजारे, दिनेश भारती,वहाब अली,अंचल सोनी,कारण, अखिलेश, आदि बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे। 

 

error: Content is protected !!