विधानसभा: नेता प्रतिपक्ष ने कहा, खत्म होनी चाहिए इन तीन विधायको की सदस्यता, हुआ हंगामा

०० छत्तीसगढ़ विधानसभा के दूसरे दिन फिर सदन की कार्यवाही में हुआ जमकर हंगामा

रायपुर| छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन आज फिर सदन की कार्यवाही में जमकर हंगामा हुआ। नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंह देव ने तीन विधायकों की सदस्यता खत्म करने को लेकर सदन में उठाया। इसके बाद सदन में खूब हल्ला हुआ भारी शोर-शराबे के बीच विधानसभा अध्यक्ष गौरी शंकर अग्रवाल ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष के पत्र पर व्यवस्था बाद में वो देंगे। आपको बता दें कि इससे पहले विधायक शिवरतन शर्मा ने यह मामला उठाया। शिवरतन शर्मा ने कहा कि किन वजहों से नेता प्रतिपक्ष ने तीन सदस्यों की सदस्यता खत्म करने के लिए पत्र लिखा है,ये स्पष्ट होना चाहिए।

इस गहमागहमी के बाद ये मामला अजय चंद्राकर ने रेणु जोगी की तरफ उछाल दिया। संसदीय सचिव चंद्राकर ने कहा कि कांग्रेस की सदस्य हैं रेणु जोगी, लेकिन रेणु जोगी को विधायक दल की बैठक में नहीं बुलाया गया, कांग्रेस को स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। इस पर मंत्री प्रेम प्रकाश पांडये ने कहा कि रेणु जोगी कांग्रेस से विभाजित होकर बनी पार्टी की सदस्य हैं, इसलिए उन्हें बैठक में नहीं बुलाया जा रहा। जवाब में बहुत देर से शांत बैठे भूपेश ने हाथ उठाते हुए आपत्ति जताया फिर कहा कि कांग्रेस का विभाजन नहीं हुआ, बल्कि वो अलग पार्टी बनी है|

 

error: Content is protected !!