कोटा विधानसभा में राजनीतिक उथल-पुथल के बीच आम आदमी पार्टी की घुसपैठ

०० आम आदमी पार्टी के स्थानीय विधानसभा प्रत्याशी द्वारा, ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर ग्रामीणों से की जा रही सीधी बात

करगीरोड कोटा| कोटा विधानसभा में वर्तमान परिस्थिति में विरोध प्रदर्शन का दौर शुरू है राजनीतिक दलों के द्वारा जिसमें कि कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी, और जोगी जनता कांग्रेस के, द्वारा जहां पर वर्तमान में कोटा विधानसभा में पढ़ने वाले डॉक्टर सी वी आर यू विश्वविद्यालय के खिलाफ विरोध प्रदर्शन और आंदोलन जारी है, अन्य बुनियादी मुद्दों पर बात ना करते हुए अन्य राजनीतिक दलों द्वारा, वहीं पर पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ रही आम आदमी पार्टी द्वारा पूरे 90 विधानसभा क्षेत्रों में विधानसभा प्रत्याशी द्वारा शहरी ग्रामीण, इलाकों में सीधे आमजनों से बात कर रही है, उनकी बुनियादी सुविधाओं, और उनके समस्याओं, के निराकरण के संबंध में विधानसभा प्रत्याशी द्वारा ग्रामीण इलाकों में जाकर उन से सीधे मुलाकात कर रही है, और उनकी समस्याओं के साथ उनके निराकरण भी करने का प्रयास कर रही है।

यूं तो कोटा विधानसभा का इतिहास कांग्रेस का रहा है, और आजादी के बाद से लेकर वर्तमान समय तक कांग्रेस का ही गढ़ रहा है, पर वर्तमान में राजनीतिक परिदृश्य बदली हुई है, शिक्षाविद् से राजनीति में कदम रखने वाले शैलेश पांडे का कांग्रेस प्रवेश के बाद से ही पूरे बिलासपुर लोकसभा में उथल-पुथल की स्थिति मची हुई है, खासकर बिलासपुर और कोटा विधानसभा को लेकर उनके दावेदारी को लेकर सत्ताधारी दल के साथ उनके अंदर खाने के लोग ही उनका विरोध कर रहे हैं, पर वहीं पर पहली बार कोटा विधानसभा चुनाव में किस्मत आजमा रही आम आदमी पार्टी जिसने कोटा विधानसभा में स्थानीय नेतृत्व देते हुए स्थानीय प्रत्याशी हरीश चंदेल को अपना प्रत्याशी घोषित किया है,जहां पर अभी कोटा विधानसभा में उथल-पुथल मची हुई है, अन्य राजनीतिक दलों द्वारा वहीं पर कोटा विधानसभा प्रत्याशी के रूप में हरीश चंदेल द्वारा कोटा विधानसभा के ग्रामीण क्षेत्रों में बूथों में, सेक्टरों में जाकर ग्रामीणों से सीधी बात कर रहे हैं, ग्रामीण क्षेत्रों में बुनियादी सुविधाओं से वंचित शिक्षा, स्वास्थ्य ,रोजगार बिजली-सड़क-पानी, जैसे बुनियादी मुद्दों पर ग्रामीणों की बात सुनकर उनके समस्याओं के निराकरण के लिए प्रयासरत हैं, साथ ही आम आदमी पार्टी मैं संगठन को मजबूत करने के लिए कार्यकर्ताओं को भी उनके द्वारा जोड़ा जा रहा है हरीश चंदेल द्वारा, साथ ही दिल्ली में हो रहे शिक्षा स्वास्थ्य बिजली सड़क जैसे विकास कार्यों को लेकर सीधी बात के दौरान बताया जा रहा है। आगे कोटा विधानसभा प्रत्याशी हरीश चंदेल द्वारा बताया गया कि अभी वर्तमान समय में ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर ग्रामीणों को होने वाली बुनियादी सुविधाएं जैसी समस्याओं के निराकरण के संबंध में रणनीति बनाई जा रही है, 1 जुलाई को होने वाले कोटा विधानसभा के कार्यकर्ता सम्मेलन के बाद जिसमें कि आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक डॉक्टर संकेत ठाकुर के साथ दिल्ली के पर्यवेक्षक सुरेश कठैत शामिल होंगे ,उसके बाद पूरे 90 विधानसभा में जिसमें कि कोटा विधानसभा भी शामिल है ,सरकारी कार्यालयों का घेराव किया जाएगा सत्ताधारी दल के मुखिया व प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के घेराव के साथ-साथ वर्तमान में विधायकों का घेराव किया जाएगा, आम आदमी को होने वाली बुनियादी असुविधाएं राशन, पेंशन ,शिक्षा, स्वास्थ्य  बिजली ,पानी ,सड़क  बेरोजगारी  जैसे मुद्दों को लेकर  सरकारी कार्यालयों के साथ वर्तमान जनप्रतिनिधियों का भी आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा घेराव किया जाएगा और उनसे सवाल किया जाएगा कि वर्तमान में विधायक रहते आपने क्या किया।

error: Content is protected !!