छत्तीसगढ़ में भाजपा के पतन की गांवों से हो गई शुरुआत: कांग्रेस

०० पाटन सहित सभी जिला पंचायत, पंचायत उपचुनावों में भाजपा की हुई हार

रायपुर। प्रदेश भर के त्रिस्तरीय पंचायतों के उपचुनावों में भाजपा की करारी हार हुई है। पंचायतों के उपचुनाव परिणामो पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि छत्तीसगढ़ में भाजपा के पतन की शुरुआत ग्रामीण छत्तीसगढ़ से हो गयी है। विधानसभा चुनावों के ठीक पहले हुए पंचायतों के ये उपचुनाव आने वाले चुनाव के पहले का सेमीफाइनल के समान है। प्रदेश भर की विभिन्न पंचायतों में भाजपा की हार से यह साबित हो रहा है कि जनता भाजपा के कुशासन से छुटकारा पाने का पूरा मन बना चुकी है।

सरकार की पूरी ताकत धन बल के बावजूद जिला पंचायत उपचुनाव के प्रदेश की सभी सीट पर कांग्रेस समर्थक प्रत्याशियों की विजय हुई है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल के निर्वाचन क्षेत्र दुर्ग के पाटन जिला पंचायत क्षेत्र में कांग्रेस के प्रत्याशी अशोक साहू 5000 से भी अधिक ऐतिहासिक मतो से विजयी हुए। मंत्री भैया लाल राजवाड़े के क्षेत्र में बीजेपी हारी कोरिया जिला पंचायत में कांग्रेस के प्रत्याशी विजयी हुए। मुख्यमंत्री रमन सिंह के निर्वाचन जिले के छुई खदान जनपद उपचुनाव में भी बीजेपी बुरी तरह पराजित हो गयी। मंत्री केदार कश्यप के प्रभाव क्षेत्र कांकेर जनपद में भी भाजपा प्रत्याशी हार गया। बालोद जनपद क्षेत्र के उपचुनाव में भाजपाई प्रत्याशी पराजित हो गया। छत्तीसगढ़ की जनता, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नारे वक्त है बदलाव के नारे के साथ मजबूती से खड़ी नजर आ रही है। लोग भाजपा के कुशासन, भ्रष्टाचार और वायदा खिलाफ़ी के कारण सरकार का बदलाव चाह रहे है। धान का अधूरा बोनस, 2100 रू. समर्थन मूल्य की वायदा खिलाफी, बढ़ती बेरोजगारी, प्रशासनिक अराजकता भाजपा सरकार के पतन का कारण बनेंगे।

 

error: Content is protected !!