धूमाछापर के जंगल में हुई पुलिस-नक्सली मूठभेड़ की दण्डाधिकारी जांच के आदेश जारी            

 

रवि ग्वाल (कवर्धा) 13 जून 2018। कबीरधाम जिले के बोडला विकासखण्ड में धूमाछापर के जंगल में पुलिस सर्चिंग पार्टी और नक्सलियों के बीच मूठभेड़ की दण्डाधिकारी जांच के आदेश जारी कर दिए गए है। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री अवनीश कुमार शरण ने पुलिस अधीक्षक जिला कबीरधाम से प्राप्त प्रतिवेदन के अनुसार दण्डाधिकारी जांच के लिए श्री अभिषेक अग्रवाल अनुविभागीय अधिकारी बोड़ला को जांच के लिए नियुक्त किया है। जांच के लिए छहः बिन्दु निर्धारित किए गए है, जिस पर जांच अधिकारी प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे। जांच के लिए निर्धारित बिन्दू इस प्रकार है- घटना दिनांक को थाना तरेंगांव जंगल क्षेत्र अंतर्गत धूमाछापर जंगल में पुलिस-नक्सली मूठभेड़ घटना का संपूर्ण घटना क्रम क्या है। पुलिस एवं नक्सलियों के मध्य फायरिंग किन परिस्थितियों में कितनी एवं कैसे हुई। क्या घटना स्थल से 315 बोर रायफल,एक नग पोच, 315 बोर के जिंदा कारतूस 25 नग, 6 नग खाली खोला, नक्सली साहित्य, हस्तलिपि डायरी, दैनिक उपयोग के समाग्री के अतिरिक्त कोई गोला बारूद की गई है। क्या इस संबंध में कोई शिकायत प्राप्त हुआ था। घटना स्थल से संबंधित अन्य कोई महत्वपूर्ण तथ्य जो जांच अधिकारी प्रतिवेदन में सम्मलित करना उचित समझे। क्या नक्सलियों के मुकाबले पुलिस बल की संख्या पर्याप्त थी।

error: Content is protected !!