बिलासपुर के एडीजे दिलेश्वर राठिया की सड़क हादसे में हुई मौत

०० कार सवार एसईसीएल कर्मी और पटवारी भी गंभीर रूप से है घायल

रायपुर/रायगढ़| बिलासपुर परिवार न्यायालय में पदस्थ एडीजे दिलेश्वर राठिया की रायगढ़ जिले के छाल में एक सड़क हादसे में मौत हो गयी। घटनाक्रम के अनुसार वे अपने दो साथियों के साथ बीती देर रात खाना खाने के लिए ढाबे में गए थे, वहां सभी ने खाना खाया और फिर घर लौटने लगे। रास्ते में उनकी कार अनियंत्रित होकर वन-विभाग के गड्ढे में गिर गई। हादसा इतना भयंकर था कि एडीजे राठिया की मौत हो गयी जबकि अन्य दोनों साथी बुरी तरह से घायल हो गए।

जानकारी के अनुसार राठिया रायगढ़ जिले के छाल थाना क्षेत्र के ही रहने वाले थे। दुखद हादसे की खबर मिलते ही बिलासपुर व रायगढ़ में उनके साथी दु:खी हो गए और वे घटना के बारे में अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त करने लिए बेचैन दिखायी पड़े। हादसे में घायल दो लोगों की हालत गंभीर निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। यह घटना सोमवार और मंगलवार की दरमियानी देर रात की है बताया जा रहा है कि एडीजे दिलेश्वर राठिया दो और लोगों केके यादव जो कि एसईसीएल में पदस्थ है व विजय श्रीवास्तव जो कि पटवारी है के साथ अपने गृह ग्राम छाल से मुनुंद स्थित अर्जुन ढाबा में खाना खाने गए थे। वापस लौटने के क्रम में यह हादसा हुआ। बताया जा रहा है कि कार की रफ्तार अधिक थी ऐसे में मोड़ के पास कार नियंत्रित नहीं कर पाए और कार सड़क के किनारे वन विभाग के द्वारा खोदेे गए सीपीटी गड्ढे में जा गिरी। हादसा इतना गंभीर था कि मौके पर ही एडीजे दिलेश्वर राठिया की मौत हो गई वहीं दो अन्य लोग जिसमें एसईसीएल कर्मी व पटवारी शामिल है गंभीर रूप से घायल हो गए दोनों को इलाज के लिए रायगढ़ के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जहां उनकी स्थिति गंभीर बताई जा रही है।

 

error: Content is protected !!