छत्तीसगढ़ में तृतीय लिंग समुदाय को सभी क्षेत्रों में मिल रहा है बराबरी का अवसर: विद्या राजपूत

०० चिप्स द्वारा तृतीय लिंग समुदाय हेतु एक दिवसीय संवदेनशीलता जागरूकता एवं समन्वय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन 

रायपुर| रायपुर के सिविल लाईन्स स्थित चिप्स कार्यालय, स्टेट डाटा सेंटर के कांफ्रेन्स हॉल में तृतीय लिंग समुदाय हेतु एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर बोलते हुए चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एलेक्स पॉल मेनन ने कहा कि तृतीय लिंग समुदाय को महिला-पुरूश वर्ग के समान ही समस्त संवैधानिक अधिकार प्राप्त हैं। हम सभी का यह कर्त्तव्य है कि इनके समस्त मौलिक अधिकार संरक्षित रहें। इस अवसर पर तृतीय लिंग कल्याण बोर्ड से सुश्री विद्या राजपूत और विशेष आमंत्रित वक्ता के रूप में महंत लक्ष्मीनारायण महाविद्यालय की पत्रकारिता विभाग प्रमुख श्रीमती अकांक्षा दुबे भी उपस्थित रहे।
चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एलेक्स पॉल मेनन ने कहा कि तृतीय लिंग समुदाय के समस्त संवैधानिक अधिकारों की रक्षा के साथ-साथ दैनिक क्रियाकलापों में भी हमें इनके साथ सामान्य तथा उचित व्यवहार करना चाहिए। हमारे व्यवहार से किसी भी प्रकार से तृतीय समुदाय के व्यक्तियों के साथ भेदभाव एवं हिंसा परिलक्षित नही होना चाहिये। जिस तरह महिला-पुरूश वर्ग के लोगों के साथ सामान्य व्यवहार किया जाता है, वैसा ही सामान्य व्यवहार हम सब को तृतीय लिंग समुदाय के साथ भी करना चाहिये।  यह हमारा कर्त्तव्य है कि तृतीय लिंग समुदाय को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित किया जाये ताकि भविश्य में समुदाय को शासकीय/निजी सभी संस्थाओं में कार्य करने का समान अवसर मिले।
विशेष वक्ता के रूप में बोलते हुए श्रीमती अकांक्षा दुबे ने बताया कि तृतीय लिंग समुदाय अपने ही समाज का हिस्सा हैं। इन्हे परिवार से अलग कर दिये जाने के कारण सम्मानजनक कार्य करने का अवसर नही मिलता है। तृतीय लिंग के लोगों का हारमोंस चंेज सामान्य नही होता और यही तृतीय लिंग समुदाय एवं समान्य लोगों के मध्य का अन्तर है। तृतीय लिंग कल्याण बोर्ड से सुश्री विद्या राजपूत ने बताया कि समाज में तृतीय लिंग समुदाय को लेकर अनेक भ्रांतिया फैली हुई है। समाज में सिर्फ लड़का और लड़की के रूप में बच्चों की परवरिश की जाती है। विद्या राजपूत ने बताया कि छत्तीसगढ़ शासन द्वारा तृतीय लिंग समुदाय के लिए अनेक कार्य किया जा रहा है। पुलिस एवं समाज कल्याण विभागों द्वारा विशेष रूप से उल्लेखनीय कार्य किये जा रहे हैं। कार्यशाला का समापन संयुक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री आर के पटेरिया द्वारा धन्यवाद ज्ञापन के साथ सम्पन्न हुआ।

 

error: Content is protected !!