अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस पर श्रीमती प्रभा दुबे ने जिला शिक्षा अधिकारियों विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया संबोधित

०० आयोग की अनुशंसाओं के पालन के दिए निर्देश

रायपुर| अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस के अवसर पर आज छत्तीसगढ़ राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष श्रीमती प्रभा दुबे ने प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया।

श्रीमती दुबे ने इस दौरान आयोग की अनुशंसाओं का गंभीरता से पालन करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा व्यवस्था को अधिक पुख़्ता करने, कर्मचारियों का पुलिस वेरीफिकेशन ,स्कूल बसों में अनिवार्य रूप से जी०पी०एस० सिस्टम लगाने और महिला कंडक्टर रखने के निर्देश दिए। उन्होंने शाला त्यागी बच्चों का चिन्हांकन कर उन्हें फिर से शिक्षा व समाज की मुख्य धारा से जोड़ने और नए शिक्षण सत्र में शिक्षा के अधिकार के तहत अधिक से अधिक बच्चों को स्कूलों में प्रवेश दिलाने के लिए विशेष अभियान चलाने के निर्देश भी दिए। श्रीमती दुबे ने प्रदेश के सभी स्कूलों में दिव्यांग बच्चो के लिए उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी आयोग को भेजने के निर्देश भी दिए ।इस दौरान आयोग के सदस्य श्री दिलीप कौशिक, श्री अरविंद जैन, सुश्री टी आर श्यामा,श्रीमती मीनाक्षी तोमर, श्रीमती इंदिरा जैन, सचिव नन्दलाल चौधरी एवं शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारीगण भी उपस्थित थे।

 

error: Content is protected !!