मुरली ज्वेलर्स पर डकैतों ने बोला धावा, महिलाओ की सुझबुझ से पकडे गए डकैत

०० रिश्तेदार ही निकले डकैत, पुलिस ने डकैतों को गिरफ्तार कर भेजा जेल

दिनेश जोल्हे

सारंगढ़। सारंगढ के मुरली ज्वेलर्स के यहाँ हथियार बन्द डकैतों ने धावा बोल दिया और घर सदस्यों से मारपीट करते हुए डकैती करने का प्रयास किया लेकिन घर की महिला के सुझबुझ से डकैतों को धर दबोचा जिसके बाद पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर कार्यवाही कर रही है|

दरअसल घटना शाम 7 बजे की जहां सारंगढ के मुरली जेवलर्स के यहां उसी के एक रिश्तेदार और दो अन्य लोग घर के अंदर आये वही रिश्तेदार होने के कारण घर मे मौजूद एक महिला और बुजुर्गों ने उन्हें अंदर आने दिया ।रिश्तेदार होने की वजह से तीनों की आवभगत की गई ।तभी बुजुर्ग को अकेला पाकर कर घर अंदर बंद कर मार पीट करने लगे ।मार पीट के आवाज सुन कर महिला पहुची और बाहर से दरवाजा बंद कर दी ।दरवाजा बंद करने के बाद महिला ने अपने पति को फोन के माध्यम से घटना की जानकारी दी तभी आनन फानन में मुरली ज्वेलर्स का संचालक और महिला का पति आक्स पास के लोगो को लेकर बाहर बंद दरवाजे को तोड़कर अंदर आये और तीनों डकैतों को पकड़ कर बंधक बना लिया| इधर डकैती की खबर लगते ही पूरे नगरवासियो का हुजूम मुरली ज्वेलर्स के यहाँ पहुँच गया पुलिस भी जानकारी मिलते ही पहुँच गई। अभी तक सभी अंदर ही थे बाहर बड़ी संख्या में नगर के लोगो व् पुलिस द्वारा मुरली ज्वेलर्स प्रतिष्ठान को घेर रखे थे ताकि डकैत कही से भी भाग न सके, देखते ही देखते लोगो की संख्या हजार से ऊपर हो गई और लोग तीनो आरोपियो को बाहर निकालने हो हल्ला मचाने लगे। भीड़ के आक्रोश को देखते हुए रायगढ़ जिला मुख्यालय से पुलिस बल मंगवाया गया तब जाकर घंटो मसक्कत के बाद तीनों आरोपियों को बाहर निकाला गया और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में रायगढ़ ले जाया गया। आपको बता दे पूर्व में भी मुरली ज्वेलर्स में 55 लाख से ऊपर की डकैती हो चुकी है जिसका आरोपी पुलिस के हाथ अभी तक नही आ सका है वही तीनो आरोपी की गिरफ्तारी कर पूछताछ की जा रही है, कयास लगाया जा रहा की पूर्व में हुए डकैती के मुख्य आरोपी कही इनमें से तो नही है, बहरहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है ।

 

error: Content is protected !!