प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य योजनाओं के लाभार्थियों से की बातचीत

०० प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना, सस्ते कॉर्डियक स्टेंट और घुटना प्रत्यारोपण के संबंध में ली जानकारी

रायपुर| प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज सवेरे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना, सस्ते कॉर्डियक स्टेंट और घुटना प्रत्यारोपण के लाभार्थियों से बातचीत की। श्री नरेन्द्र मोदी का स्वास्थ्य लाभार्थियों से सीेधे संवाद का उद्देश्य यह जानना है कि वर्तमान में मरीजों का इलाज, विशेष रूप से गरीबों के जीवन में किस प्रकार परिवर्तन आया है।उन्हांेने वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान  केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं से देश के हितग्राहियों को मिल रहे लाभ की जानकारी प्राप्त की।
प्रधानमंत्री ने देश के सभी राज्यों के स्वास्थ्य लाभार्थियों से जनऔषधि केन्द्र के माध्यम से दी जा रही सस्ती दवाइयों के संबंध में पूछा। हितग्राहियों ने उन्हें बताया कि मधुमेह व ब्लड प्रेशर की दवाइयों के लिए निजी मेडिकल स्टोर में लगभग तीन हजार रूपए प्रतिमाह खर्च होते थे। जनऔषधि केन्द्र के माध्यम से यही दवाइयां तीन सौ से चार सौ रूपए के बीच उन्हें सस्ते दामों में मिल रही है। प्रधानमंत्री श्री मोदी की वीडियों कांफेंसिंग एनआईसी, कलेक्टोरेट रायपुर आयोजित थी। रेडक्रास के सभागृह तथा सभी जिलों के जिला चिकित्सालय सहित अन्य स्थानों पर टीवी व एलसीडी प्रोजेक्टर के माध्यम से इस संवाद कार्यक्रम को देखा गया। नरेन्द्र मोदी ने हितग्राहियों से बात करने के बाद जनता को संबोधित करते हुए केन्द्र सरकार द्वारा 48 माह में किए गए कार्यों की जानकारी दी। श्री मोदी ने बताया कि जिला अस्पताल में फ्री डायलिसिस की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। जिसमें लाखों मरीजों की डायलिसिस की जा चुकी है। किडनी के कोई भी मरीज को डायलिसिस की आवश्यकता होती थी। तब मरीज के परिजन व घरवाले घर बेचकर, खेत बेचकर ईलाज कराने के लिये मजबूर हो जाते थे, परंतु प्रधानमंत्री डायलिसिस योजना के तहत अब उन्हें निःशुल्क यह सुविधा उपलब्ध कराया जा रहा है। नरेन्द्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख का केशलेस इलाज की सुविधा गरीब परविार के मरीजों को दिए जाने की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि गरीब परिवारों को गंभीर बीमारियों के दौरान अपने सदस्यों के ईलाज के लिये पांच लाख रूपए तक की सहायता मिलेगी। इस कार्यक्रम में 50 करोड़ लोगों को फायदा होगा। श्री मोदी ने छत्तीसगढ़ के हितग्राहियों से भी संवाद स्थापित किया। हृदय रोगी, घुटना प्रत्यारोपण के स्वास्थ्य लाभ ले चुके लाभार्थियों से उन्होंने खुले मन से चर्चा की और सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार के द्वारा गरीबों को उच्च स्तरीय स्वास्थ्य सेवाएं मिले इसकी भी जानकारी ली। संचालक स्वास्थ्य सेवाएं श्रीमती रानू साहू ने स्वास्थ्य लाभार्थियों से मुलाकात की। दूरदर्शन के माध्यम से कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया गया।

 

error: Content is protected !!