किसान कांग्रेसी, भाजपाई नहीं अन्नदाता होता है : धनेन्द्र साहू

रायपुर। बोनस लेने में कांग्रेसी आगे मुख्यमंत्री रमन सिंह ने ऐसा बोलकर अन्नदाताओं का घोर अपमान किया है। प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष धनेन्द्र साहू ने कहा है कि बोनस कोई खैरात नहीं, भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में 300 रु. बोनस 5 साल तक देने की बात कही गयी थी। अन्नदाता कांग्रेसी या भाजपा नहीं होता, अन्नदाता किसान होता है। किसान अन्नदाता है, चाहे वह किसी भी राजनैतिक दल का हो।

धनेन्द्र साहू ने कहा कि रमन सिंह अब किसानों को भी आम किसान, भाजपाई किसान और कांग्रेसी किसान में बांटना चाहते है। इस तरह से बयान देकर डॉ. रमन सिंह अपने पितृ संगठन के विभाजनकारी विचारधारा को आगे बढ़ा रहे है, किसानों का महत्व कम कर रहे है। मुख्यमंत्री रमन सिंह को किसानों से माफी मांगनी चाहिये। किसानों को बोनस एक साथ उनके बैंक एकाउंट में ट्रांसफर कर दिये जा रहे है इसमें कांग्रेसी और भाजपा होने का सवाल ही नहीं है। डॉ. रमन सिंह सत्ता को फिसलते देखकर इतने विचलत हो गये है और इतने बोखला गये है कि सच्चाई को भी भूल गये है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का बयान अपमानजनक है इसलिये उन्हें किसानों से माफी मांगनी चाहिये। 

 

error: Content is protected !!