नया रायपुर में बनेगा मंडी बोर्ड का मुख्यालय भवन, कृषि मंत्री ने की निर्माण कार्यो की समीक्षा

०० कृषि मंत्री ने निर्माण कार्यो की धीमी गति पर जताई नाराजगी, अधिकारियों को तत्परता से कार्य करने दिए निर्देश

रायपुर| छत्तीसगढ़ राज्य कृषि विपणन (मंडी) बोर्ड का नया मुख्यालय भवन नया रायपुर में 41 करोड़ रूपए की लागत से बनेगा। कृषि मंत्री एवं मंडी बोर्ड के अध्यक्ष बृजमोहन अग्रवाल ने मंडी बोर्ड द्वारा किए जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यो की समीक्षा बैठक में मुख्यालय के नये भवन के लिए निविदा की कार्रवाई जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। अग्रवाल ने बैठक में अन्य सभी निर्माण कार्यो में गति लाने के निर्देश दिए। 
बृजमोहन अग्रवाल ने प्रदेश के 37 मंडी और उपमंडी प्रागंणों में बनाए जाने वाले गोदामों की निविदा की कार्रवाई 15 जून तक करने के निर्देश दिए। बैठक में रायपुर में प्रस्तावित किसान भवन एवं कन्वेनशन सेंटर, बिलासपुर, दुर्ग, राजनांदगांव और रायगढ़ में प्रस्तावित कोल्ड स्टोरेज, रायपुर और महासमंुद में प्रस्तावित एग्रीमॉल, राजधानी रायपुर के पंडरी के कृषि उपज मंडी प्रागंण में 25 एकड़ जमीन पर प्रस्तावित मेला ग्राउण्ड, प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर निर्माणाधीन 108 हाट बाजार और सड़कों तथा पुल-पुलियों की प्रगति की समीक्षा की। श्री अग्रवाल ने निर्माण कार्यो की धीमी गति पर नाराजगी जाहिर करते हुए अधिकारियों को तत्परता से कार्य करने के लिए निर्देशित किया। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में अलग-अलग 109 स्थानों पर हाट बाजार विकसित करने की स्वीकृति दी गई है। उनमें से 11 पूर्ण हो चुके हैं। 76 हाट बाजारों का निर्माण चल रहा है। कृषि मंत्री श्री अग्रवाल ने हाट बाजारों में पहंुच मार्ग, बिजली, पानी, शौचालय की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पेयजल के लिए सोलर पंप लगाए जाएं। सोलर प्लेटों भी सुरक्षा की भी समुचित व्यवस्था होनी चाहिए। श्री अग्रवाल ने हाट बाजारों में दूध और फल-फूलों की खरीदी-बिक्री के लिए पांच-पांच दुकानें बनाने के निर्देश दिए। अधिकारियों ने बताया कि छः स्थानों पर किसान उपभोक्ता बाजार बनाए जा रहे हैं। इनमें से धमतरी किसान उपभोक्ता बाजार शुरू हो गया है। नवीन मंडी प्रागंण पंडरी रायपुर, पुराना मंडी प्रागंण रायपुर, बिलासपुर, बरमकेला , उपमंडी चिखली(रायगढ़), बेमेतरा और बसंतपुर राजनांदगांव में किसान उपभोक्ता बाजार का निर्माण चल रहा है। श्री अग्रवाल ने किसान उपभोक्ता  बाजारों मे एटीएम वॉटर कूलर लगाने के निर्देश दिए। इसके अलावा इन बाजारों में छोटा कुलिंग प्लांट लगाने के लिए निर्देशित किए गए। कृषि मंत्री ने प्रदेश की बड़ी मंडियों में जैविक उत्पादों की खरीदी-बिक्री के लिए अलग से फड बनाने की जरूरत पर जोर दिया। उन्होंने पत्थल गांव, सूरजपुर, लुड़ेग और सिलफिली में फल-सब्जी मंडी निर्माण की प्रगति की समीक्षा भी की।  बैठक में कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्त श्री सुनील कुजूर, कृषि विभाग के सचिव श्री अनूप श्रीवास्तव, मंडी बोर्ड के प्रबंध संचालक श्री अभिजीत सिंह सहित कृषि विभाग और मंडी बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। 

 

error: Content is protected !!