भारत सरकार के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग की संयुक्त सचिव ने किया समाज कल्याण विभाग की विभिन्न संस्थाओं का निरीक्षण

०० निरीक्षण के दौरान दिव्यांग बच्चों ने मनमोहक नृत्य से किया अभिवादन 

रायपुर| भारत सरकार के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग की संयुक्त सचिव सुश्री डॉली चक्रवर्ती ने रायपुर के माना कैम्प स्थित समाज कल्याण विभाग की विभिन्न संस्थाओं का निरीक्षण किया. इस दौरान समाज कल्याण विभाग के विशेष सचिव श्री आर प्रसन्ना और विभागीय अमला भी मौजूद था| सुश्री चक्रवर्ती ने इस दौरान विभाग के विभिन्न आवासीय संस्थानों में रहने वाले दिव्यांग बच्चों से भी मुलाकात कर उनकी दिनचर्या के बारे में बात-चीत की.इस दौरान बच्चों ने अपने संगीतबद्ध मनमोहक नृत्य से उनका अभिवादन किया|

सुश्री चक्रवर्ती ने समाज कल्याण विभाग द्वारा प्रमस्तिष्क अंगाघात के पीड़ित दिव्यांगजनों की शीघ्र पहचान और उपचार के लिए  संचालित सेरेब्रल पाल्सी गेट लैब का निरीक्षण और अवलोकन किया. विभाग के संयुक्त संचालक श्री राजेश तिवारी ने सुश्री चक्रवर्ती को सेरेब्रल पाल्सी गेट लैब के उपकरणों की कार्यविधि के बारे में विस्तार से बताया| उल्लेखनीय है कि समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित इस संस्था में अत्याधुनिक मशीनों द्वारा प्रमस्तिष्क अंगाघात के मरीजों की मांसपेशियों ,जोड़ों तथा चलने की प्रक्रिया का 09 इन्फ्रारेड कैमरों ,02 अल्ट्रा वायलेट कैमरों एवं अन्य उपकरणों के माध्यम से क्रमबद्ध अध्ययन किया जाता है .इसके बाद उनकी स्थिति की विवेचना कर आवश्यक उपचार किया जाता है| इसके बाद  सुश्री चक्रवर्ती ने फिजिकल रिफरल रेहैबिटेशन सेंटर का निरीक्षण किया .यहाँ पर दिव्यांग व्यक्तियों के लिए अत्याधुनिक कृत्रिम अंग और सहायक उपकरणों  का निर्माण किया जाता है और निःशक्त व्यक्ति अधिकार अधिनियम 2016 के प्रावधानों के तहत दिव्यांगजनों को निःशुल्क रूप से कृत्रिम अंग और सहायक उपकरण प्रदान किया जाता जाता है.विभाग के विशेष सचिव ने इस दौरान संयुक्त सचिव को समाज कल्याण विभाग द्वारा दिव्यांगजनों के लिए संचालित योजनाओं और राज्य सरकार द्वारा किये जा रहे विशेष प्रयासों की भी जानकारी दी . 

error: Content is protected !!