राज्य में खुलेगा हर्बल वेलनेस सेंटर, एमओयू पर हुए हस्ताक्षर

रायपुर| राज्य सरकार के वन विभाग की संस्था छत्तीसगढ़ राज्य औषधीय पादप बोर्ड द्वारा आज यहां अपने कार्यालय में कच्ची वनौषधि उपजों की आपूर्तिऔर राज्य में हर्बल वेलनेस सेन्टर की स्थापना के लिए नई दिल्ली की प्राईवेट कम्पनी वलेड़ा लाईफ हर्बल के साथ समझौता ज्ञापन ( एम.ओ.यू.) पर हस्ताक्षर किए गए। इस परियोजना में लगभग 10 करोड़ रूपये का निवेश संभावित है । 

बोर्ड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ए.के. द्विवेदी और कम्पनी के प्रतिनिधि विक्रांत ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर बोर्ड के अध्यक्ष रामप्रताप सिंह,  उपाध्यक्ष डॉ.जे.पी.शर्मा और वनविभाग के अपर मुख्य सचिव  सी.के. खेतान भी उपस्थित थे कंपनी के प्रतिनिधि ने इस मौके पर बताया कि उनकी कम्पनी  द्वारा  स्थापित किएजाने वाले हर्बल वेलनेस सेन्टर में बीस-पच्चीस प्रकार की बीमारियों का इलाज किया जाएगा और विभिन्न  बीमारियों के इलाज में उपयोगी जड़ी-बूटियों की आपूर्ति छत्तीसगढ़ के जंगलो से बोर्ड के माध्यम से की जाएगी। बोर्ड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने बताया कि  इससे हर्बल क्षेत्र में कार्य करने  वाले आमजन को रोजगार तथा जीविकोपार्जन हेतु अवसर उत्पन्न होंगे ।

 

error: Content is protected !!