सहायक कृषि अभियंता 10 हज़ार की रिश्वत लेते एसीबी के हाथो गिरफ्तार

०० पेंडिंग बिल पास कराने के एवज में ठेकेदार से रिश्वत मांगे थे 35 हजार

रायपुर/कवर्धा| कवर्धा जिले में एंटी करप्शन ब्यूरो ने आज एक घूसखोर असिस्टेंट एग्रीक्लचर इंजीनियर को गिरफ्तार कर लिया। असिस्टेंट इंजीनियर पर आरोप है कि पेंडिंग बिल पास कराने के एवज में उसने 35 हजार रुपए एक ठेकेदार से रिश्वत मांगे थे। 10 हजार लेते रंगे हाथ पकड़ाए सहायक कृषि अभियंता का नाम एके पांडेय बताया जा रहा है जो कबीरधाम में कृषि अभियांत्रिकी विभाग में पदस्थ है।

मिली जानकारी के मुताबिक कबीरधाम के ही बलराम सिंह ठाकुर ने एसीबी मे शिकायत दर्ज कराते हुए सहायक कृषि अभियंता एके पांडेय पर पेंडिंग बिल पास कराने के एवज में पैसे की मांग की थी। बलराम सिंह ठाकुर का आकाश ट्रेडर्स नाम की एक कंपनी है जो ऐसे डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के लिए मैटेरियल सप्लाई का काम करता है। चेक डेम के लिए बलराम ठाकुर ने 1 लाख 98 हजार रुपये का मैटेरियल सप्लाई किया था जिसका बिल भुगतान था। सहायक कृषि अभियंता बिल भुगतान के एवज में 35 हजार रुपये मांगे थे।इससे पहले भी एके पांडेय कमीशन के रुप में उससे 25 हजार रुपये ले चुका था। एसीबी ने शिकायत की जांच की जिसमें शिकायत सही पायी गयी। वहीं बलराम को असिस्टेंट इंजीनियर एके पांडेय ने पैसे लेकर बुलाया था। इस पर बलराम ने एसीबी को ये बात बताई इसके बाद एसीबी ने असिस्टेंट इंजीनियर को रंगेहाथ पकडऩे के लिए योजना बनाई। एसीबी ने बलराम को पैसे लेकर असिस्टेंट इंजीनियर के ऑफिस जाने को कहा। बलराम एसीबी के कहे अनुसार असिस्टेंट इंजीनियर के ऑफिस पहुंचा, तभी एसीबी की टीम भी वहां पहुंच गई। असिस्टेंट इंजीनियर ने बलराम से पैसे की मांग तो एसीबी ने मौका देखते ही उसे को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत करवाई की गई।

error: Content is protected !!