जंगल से निकलकर शहर में आया भालू, शहर में मचा हड़कंप

०० वन-विभाग सहित जिला प्रशासन ने भारी मशक्कत के बाद किया भालू को काबू

०० वन-विभाग के एक्सपर्ट द्वारा ट्रैक्यूलाइज कर भालू को किया बेहोश

रायपुर/अंबिकापुर| शहर के वार्ड क्रमांक-37 स्थित समलाया मंदिर के पास रविवार की सुबह 6 बजे भालू घुस आया। भालू को देख लोग हो-हल्ला करने लगे। इससे भालू एक घर में घुस गया। बाहर से दरवाजा बंद कर उसे काफी देर तक वहीं रोके रखा गया। सूचना मिलते ही सीसीएफ, कलक्टर, डीएफओ, एसपी सहित प्रशासनिक, पुलिस व वन अमला मौके पर पहुंच गया। इस दौरान उसे ट्रैक्यूलाइज कर पकडऩे की तैयारी चलती रही। इसी बीच भालू कमरे से निकलकर फस्र्ट फ्लोर पर चढ़ गया और कमरे में बैठ गया। दोपहर करीब 1 बजे अधिकारियों की मौजूदगी में एक्सपर्ट द्वारा ट्रैक्यूलाइज कर भालू को बेहोश किया गया इसके बाद उसे काफी मशक्कत के बाद छत से उतारा गया।

मिली जानकारी के मुताबिक रविवार की सुबह जंगल से भटककर एक भालू नगर के अंबिकापुर शहर के वार्ड क्रमांक-37 में पहुंच गया। वह समलाया मंदिर के पास ही घूम रहा था। इसी दौरान वहां से गुजर रहे लोगों की नजर उस पर पड़ी तो उन्होंने शोर मचाना शुरु किया। इसके बाद मोहल्ले के सभी लोग अलर्ट हो गए। इस दौरान भालू इधर-उधर दौड़ लगाता रहा। इसकी सूचना तत्काल वन विभाग को दी गई। सूचना मिलते ही सीसीएफ केके बिसेन, कलक्टर किरण कौशल, डीएफओ प्रियंका पांडेय, एसपी सदानंद कुमार सहित अन्य प्रशासनिक, पुलिस व फॉरेस्ट के अधिकारी-कर्मचारी वहां पहुंच गए। इधर भालू एक घर में घुस गया। यह देख लोगों ने बाहर से दरवाजा बंद कर दिया। इस दौरान भालू को ट्रैंक्यूलाइज करने की तैयारी शुरु की गई। सीसीएफ, कलक्टर, डीएफओ व एसपी की मौजूदगी में उसे बेहोश करने की रणनीति बनी। भालू नरेंद्र सोनी उर्फ पप्पू के घर में सीढिय़ों से होते हुए फस्र्ट फ्लोर पर चढ़कर एक कमरे में बैठ गया। भालू को बेहोश करने एक्सपर्ट सीके मिश्रा भी मौजूद थे। अधिकारियों का निर्देश मिलने के बाद वे सीढ़ी से ऊपर चढ़े और वहां से भालू को निशाना बनाया। पहली गोली ही सटीक निशाने पर बैठी और भालू को लगी। इससे करीब 1 बजे भालू बेहोश हो गया। इसके बाद उसे काफी मशक्कत कर छत से नीचे उतारकर पिजड़े में डाला गया। इसके बाद वन अमले द्वारा उसे ले जाया गया। इस दौरान काफी संख्या में लोगों की भीड़ जुटी रही। गौरतलब है कि 20 दिन पूर्व भी नगर के पटेलपारा में एक भालू घुस आया था। उसे 11 घंटे बाद बेहोश कर पकड़ा गया था।

 

error: Content is protected !!