इफ्को टोकियो को ब्लैक लिस्ट, शासन के संरक्षण में रिलायंस को  अभयदान: चंद्रशेखर शुक्ला

०० किसान कांग्रेस की मांग पर कृषि संचालक ने फसल बीमा का टेंडर किया निरस्त

रायपुर। प्रदेश में आगामी 3 वर्षो के लिये फसल बीमा का टेंडर होना प्रस्तावित था। किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर शुक्ला ने बताया है कि बीमा कंपनी विगत पिछले 3 वर्षो में हजारो किसान का फसल बीमा कर पैसा डकार चुका है, तथा भारी सूखा पड़ने पर भी आज तक सत्र 16-17, 17-18 का फसल बीमा कि राशि तक नहीं दिया है। किसान कांग्रेस के 500 से अधिक किसानो ने आज प्रदेश कृषि संचालक का घेराव कर फसल बीमा के टेंडर को निरस्त करने की मांग किया, साथ ही किसानो को धोखा देने वाली कंपनी को ब्लैक लिस्ट करने की मांग किया। कृषि संचालक श्री केरकेट्टा ने फसल बीमा का टेंडर निरस्त कर इफ्को टोकियो को ब्लैक लिस्ट करने का निर्णय लिया वहां रिलायंस फसल बीमा कंपनी को ब्लैक लिस्ट करने में साफ इंकार कर दिया, जबकि रिलांयस कंपनी ने सत्र 15-16, 16-17, 17-18 का फसल बीमा का पैसा नही दिया है एवं आज भी सुकमा एवं सूरजपुर की राशि बकाया है।

किसान कांग्रेस अध्यक्ष चंद्रशेखर शुक्ला ने आरोप लगाया कि शासन जानबूझ कर रिलायंस फसल बीमा कंपनी को बचाने में लगा है। जबकि उस पर 2016 एवं 2017 एवं 2018 कि राशि भी देना बचा है। जबकि इन दोनो कंपनियों पर 250 करोड़ से ज्यादा बकाया है।प्रदेश किसान कांग्रेस अध्यक्ष चंद्रशेखर शुक्ला ने यह भी आरोप लगाया कि इस वर्ष का फसल बीमा अभी तक किसानों को नहीं मिला है, सिर्फ दुर्ग, राजनांदगांव, कवर्धा, बेमेतरा के किसानों को मुख्यमंत्री को खुश करने के लिये आशिंक रूप में फसल बीमा बांटी गयी है। चंद्रशेखर शुक्ला ने इफ्को टोकियों को ब्लैक लिमीटेड करने को एवं फसल बीमा के टेंडर को निरस्त करने को छत्तीसगढ़ प्रभारी पी.एल. पुनिया, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, किसान कांग्रेस की जीत बताया है एवं रिलायंस को तत्काल डिफाल्टर घोषित करने कि मांग किया है। 

 

error: Content is protected !!