विधुवा-विधुर व तलाकशुदा महिला पुरूषों को भी सुखमय जीवन जीने का अधिकार: संजय श्रीवास्तव 

०० विधुवा-विधुर, तलाकशुदा महिला एवं पुरूष परिचाय सम्मेनल में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए संजय श्रीवास्तव

रायपुर। अब समाज में विधुवा व विधुर तथा तलाकशुदा महिला एवं पुरूषों के जीवन में भी सुधार आ रहा है। समाज इन्हें अब हेय दृष्टि से नहीं देखता वरण ऐसे प्रयास हो रहे हैं जिससे यह वर्ग भी समाज के प्रत्येक कामों में कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ सके और अपना समुचित विकास कर सके। छत्तीसगढ़ सरकार ने दूसरे वर्ग के लांेगों की तरह इस वर्ग के लिए भी ढ़ेर सारी कल्याणकरी कार्य किये है। उक्तासय की बातें है रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष तथा  भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने यहां आयोजित विधुवा-विधुर, तलाकशुदा महिला एवं पुरूष परिचाय सम्मेनल में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए व्यक्त किये। 

अध्यक्ष संजय श्रीवास्तव ने अपने संबोधन में आगे कहा कि समाज में सभी वर्ग के लोंगों को सम्मान के साथ जीने तथा आगे बढ़ने का अधिकार प्राप्त है। किसी को कोई हक नहीं है कि किसी के साथ भेदभाव किया जाए। कई बार ऐसी विपत्तियां आ जाती है कि किसी महिला या पुरूष का जीवन साथी असमय बिछड़ जाता है। यह सब हमारे बस में नहीं है लेकिन जीवन साथी बिछड़ने के बाद जो महिला एवं पुरूष कष्ट मय जीवन व्यतित कर रहें हैं उनका जीवन सुखमय बनाने के लिए काम किया जाये यह काफी अनुकरणीय है। रायपुर ब्राईट फाउण्डेशन के तत्वाधान में महाराष्ट्र मंडल के सहयोग से आयोजित उक्त परिचय सम्मेलन में बड़ी संख्या में उपस्थित विधुर-विधवा व तलाकशुदा महिला पुरूषों का एक दूसरे से परिचय कराया गया। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि इन संस्थाआंे में जो प्रयास किया है निश्चित रूप से उससे समाज में नया संदेश जाऐगा। ऐसे परिचय सम्मेलन से विधुवा-विधुर व तलाकशुदा महिला एवं पुरूषो को नया सुखमय जीवन जीने का अवसर मिलेगा। इस कार्यक्रम में मुख्यरूप से राजेश अग्रवाल, प्रदीप गोविंद शीतुत, माधवलाल यादव, चेतन चन्दल, योगेश चैहान, राधा राजपाल, डाॅ सानु मसीह, नरेन्द्र ठाकुर, अमिताब बांधे, जे सी आई रायपुर युवा सहित बड़ी संख्या में समाजिक कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

 

 

error: Content is protected !!