शहीद भोजसिंह और लेखाराम को राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई 

०० जनप्रतिनिधियों, अधिकारी-कर्मचारी और नागरिकों ने दी श्रद्धांजलि

रायपुर/गरियाबंद| नक्सली मुठभेढ़ में शहीद आरक्षक भोजसिंह टांडिल्य और लेखाराम बघेल को आज सवेरे जिला मुख्यालय के पुलिस लाईन में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। दोनों शहीद जवानों को गॉर्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इस अवसर पर लोकसभा सांसद चन्दूलाल साहू, जिला पंचायत अध्यक्ष डॉ. श्वेता शर्मा, नगर पालिका अध्यक्ष मिलेश्वरी साहू, रायपुर रेंज के आई.जी. प्रदीप गुप्ता, कलेक्टर श्याम धावड़े, पुलिस अधीक्षक एम.आर. आहिरे, जिला पंचायत सी.ई.ओ. विनीत नंदनवार, जिला पंचायत उपाध्यक्ष पारस ठाकुर, शहीदों के परिजन, अनेक जनप्रतिनिधि और नागरिकों ने पुष्पगुच्छ अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

 
ज्ञातव्य है कि कल बुधवार को मैनपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम ओड़ और अमलोर के बीच एरिया डॉमिनेशन के लिए रवाना हुए छः पार्टियों में दोनों शहीद जवान पहली पार्टी में शामिल थे। एरिया डॉमिनेशन के दौरान ही नक्सली मुठभेढ़ में आरक्षक क्रमांक 545 भोजसिंह टांडिल्य और आरक्षक क्रमांक 642 लेखाराम बघेल शहीद हो गये। श्रद्धांजलि के पश्चात दोनों शहीदों के पार्थिव शरीर को उनके गृहग्राम के लिए रवाना किया गया। शहीद लेखाराम बघेल आरक्षक क्रमांक 642 कांकेर जिले के ग्राम डोड़कवही (पर्थरी) और भोजसिंह टांडिल्य आरक्षक क्रमांक 545 गरियाबंद जिले के ग्राम कचरिया (देवभोग) के निवासी थे। 

error: Content is protected !!