पचपेड़ी क्षेत्र में हो रहा अवैध बोर खनन, दिखावे के लिए की जा रही महज खानापूर्ति

०० मस्तुरी एसडीएम, तहसीलदार सहित पचपेड़ी थाना पुलिस के सामने खुलेआम किया जा रहा है अवैध बोर खनन

०० क्षेत्र में पानी का स्तर कम होने के बावजूद लगातार किया जा रहा है अवैध बोर खनन

पचपेड़ी| मस्तुरी विकासखंड के ग्राम पंचायत पचपेड़ी के आसपास धडल्ले से अवैध बोर खनन किया जा रहा है, क्षेत्र में बोरवेळ मशीन के द्वारा धरती का सीना चीरकर बोर किये जाने की वजह से क्षेत्र में पानी की विकराल समस्या सामने आ रही है मगर सुस्त प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारी अपने कर्तव्यों से मुह मोड बैठे हुए है वही कशेर में पानी की समस्या से ग्रामीणों का बुरा हाल है|

ग्राम पंचायत पचपेड़ी के आसपास हाल ही में 15 से 20 बोर शासन के प्रतिबन्ध के बावजूद किये गए है, इसी कड़ी में आज ग्रामीणों व मिडिया के द्वारा एक बोरवेल मशीन से अवैध बोर खुदाई कर रहे वाहन की शिकायत तहसीलदार से की जिसके बाद जनता व मिडिया के भारी दबाव में तहसीलदार ने पचपेड़ी थाना पुलिस को बोरवेल मशीन के खिलाफ कार्यवाही के लिए निर्देशित किया जिसमे वाहन मालिक सुभाष चंद अग्रवाल, निवासी जांजगीर के वाहन क्र. cg07c6786 के खिलाफ कार्यवाही की गयी| पचपेड़ी थाना प्रभारी को इस कार्यवाही के मामले में मिडिया द्वारा जानकारी मांगे जाने पर उन्होंने पूरी जानकारी तहसीलदार से लेने का हवाला देते हुए अपना पल्ला झाड लिया जबकि इस कार्यवाही को पुलिस द्वारा किया जाना था| इस पूरी कार्यवाही लेकर कई तरह की शंकाए ग्रामीणों द्वारा व्यक्त की जा रही है, सूत्रों की माने तो क्षेत्र मे धडल्ले से अवैध बोर खनन किया जा रहा है जिसकी शिकायत क्षेत्र के एसडीएम, तहसीलदार सहित पुलिस से किये जाने के बावजूद अवैध खनन के खिलाफ कार्यवाही नहीं की जा रही थी| ग्रामीणों के अनुसार इस अवैध बोर खनन में एसडीएम, तहसीलदार व पचपेड़ी पुलिस की संलिप्तता होने के चलते कार्यवाही नहीं हो रही है वही इस मामले को लेकर मिडिया व ग्रामीणों द्वारा ज्यादा दबाव बनाने पर महज खानापूर्ति के नाम पर दिखावे के लिए कार्यवाही की जाती है जैसा कि आज हुई कार्यवाही को होना बताया जा रहा है|

error: Content is protected !!