महाविद्यालयों में प्रवेश के लिए इस साल ऑनलाईन और ऑफलाईन आवेदन की सुविधा: प्रेम प्रकाश पाण्डेय

०० उच्च शिक्षा मंत्री ने विभागीय समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

रायपुर| प्रदेश के महाविद्यालयों में अगले जुलाई से शुरू हो रहे नये शिक्षा सत्र में छात्र-छात्राओं को प्रवेश के लिए ऑनलाईन के साथ-साथ ऑफलाईन आवेदन करने की सुविधा मिलेगी। उच्च शिक्षा मंत्री श्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने यहां अपने निवास कार्यालय में आयोजित विभागीय समीक्षा बैठक में अधिकारियों को इसके लिए सभी जरूरी तैयारियां शुरू करने के निर्देश दिए हैं। श्री पाण्डेय ने बैठक में कहा कि बीते शिक्षा सत्र में ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया में आई शिकायतों को दूर करने सभी प्रबंध किए जाएं ताकि विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की समस्या न हो। बैठक में सचिव उच्च शिक्षा श्री सुरेन्द्र कुमार जायसवाल और आयुक्त श्री बी. राजू सहित मंत्रालय और संचालनालय के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

उच्च शिक्षा मंत्री पाण्डेय ने विभागीय काम-काज की समीक्षा के दौरान विभाग के सभी संवर्गों में पदोन्नति की कार्रवाई शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। अधिकारियों ने बताया कि महाविद्यालयों में स्नातक प्राचार्य से स्नातकोत्तर प्राचार्य पर पदोन्नति की प्रक्रिया पूरी हो गई है। इसकी पदोन्नति सूची जल्द जारी होगी। इसके बाद प्राध्यापक से स्नातक प्राचार्य एवं सहायक प्राध्यापक से प्राध्यापक पद पर पदोन्नति की प्रक्रिया शुरू होगी। महाविद्यालयों में लैब-टैक्नीशियन व उच्च श्रेणी लिपिक पद पर पदोन्नति की कार्रवाई चल रही है। अधिकारियों ने यह भी बताया कि नए शिक्षा सत्र में नए अशासकीय महाविद्यालय खोलने तथा पुराने महाविद्यालयों में नए विषय और नए संकाय प्रारंभ करने की कार्रवाई अंतिम चरण में है। श्री पाण्डेय ने महाविद्यालयों के कुछ पात्र सहायक प्राध्यापकों को प्रवर श्रेणी वेतनमान नहीं मिलने की शिकायत पर अधिकारियों से वस्तुस्थिति की जानकारी ली और इस संबंध में तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए। पाण्डेय ने बैठक में शासकीय विश्वविद्यालय के बजट एवं कुल सचिवों की नियुक्ति की जानकारी ली। उन्होंने महाविद्यालयों के विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति वितरण की स्थिति के बारे में भी अधिकारियों से पूछताछ की। श्री पाण्डेय ने कहा कि महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं को लैपटॉप शीघ्र वितरित करने की कार्रवाई की जाए। अधिकारियों ने बताया कि शिक्षा सत्र 2017-18 में लैपटॉप व टेबलेट की राशि सीधे डी.बी.टी. द्वारा जमा करा दी गई थी। उच्च शिक्षा मंत्री ने नए सहायक प्राध्यापकों व प्रयोगशाला तकनीशियनों की परिवीक्षा अवधि विभाग द्वारा समाप्त किए जाने पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि परिवीक्षा अवधि समाप्त होने के लिए 15 वर्ष के पुलिस सत्यापन के स्थान पर पांच वर्ष के पुलिस सत्यापन कराने हेतु आवश्यक पहल की जाए। श्री पाण्डेय ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की घोषणा के अनुरूप छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री स्वर्गीय श्री हेमचंद यादव के नाम पर दुर्ग विश्वविद्यालय का नामकरण करने की प्रक्रिया जल्द से जल्द पूरी करने के निर्देश सचिव और आयुक्त को दिए। उन्होंने संभागीय मुख्यालय दुर्ग में उच्च शिक्षा विभाग का क्षेत्रीय कार्यालय शीघ्र खोलने के निर्देश अधिकारियों को देते हुए कहा कि प्रशासनिक सुविधा की दृष्टि से उच्च शिक्षा संचालनालय के कार्यों का विकेन्द्रीकरण कर क्षेत्रीय कार्यालयों को सौंपा जाए ताकि दूरस्थ क्षेत्रों के अधिकारियों व कर्मचारियों को बार-बार राजधानी रायपुर आना न पड़े। उच्च शिक्षा मंत्री ने आगामी शिक्षा सत्र से महाविद्यालयों में प्रवेश के लिए छात्र-छात्राओं को ऑनलाईन और ऑफलाईन आवेदन करने की सुविधा देने समस्त तैयारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने इसी सिलसिले में प्रदेश के अग्रणी महाविद्यालयों के प्राचायों की बैठक मई महीने के दूसरे सप्ताह में आयोजित करने के निर्देश दिए। श्री पाण्डेय ने विभाग के अंतर्गत संचालित पंचमुखी विकास योजना के क्रियान्वयन के लिए आवश्यक कदम उठाने के लिए भी अधिकारियों को निर्देशित किया।

 

error: Content is protected !!