पार्किंग की जगह पर खुम्चा व्यवसायियों का कब्जा

०० शनिचरी बाजार,तेलीपारा रोड लगे हुए पार्किग पर खुम्चा व्यवसायियों का चलता हैं कब्जा

०० दुपहिया, चार पहिया वाहन रखे तो रखे कहा?

बिलासपुर। शहर के व्यस्ततम् मार्गों पर यातायात व्यवस्था एक बार फिर चरमराने लगी है। इसका सबसे बड़ा कारण यही की मुख्य मार्ग पर स्थिति व्यवसायिक भवन के मालिकों ने अपने सामने की जगहों को किराए पर दे दिया है। गपचुप, चाट, बरफ के ठेले वाले इनके पसंदिदा किरायेदार है। यातायात पुलिस ने सड़क के किनारे पिली पट्टी को खिंचकर यह कोशिश की दुपहिया एवं चार चक्का वाहन पार्किंग के लिए उस स्थान पर खड़े हो सकते है।

जो वाहन पट्टी के बाहर पाया जाएगा, उस पर जुर्माना किया जाता है, यह व्यवस्था उचित है। किन्तु असकी आड़ में तेलीपारा क्षेत्र पुराना बस स्टैंड, अग्रसेन चैक, श्रीकांम वर्मा मार्ग पर व्यवसायिक काॅम्पलैक्स के बाहर सड़क किनारे बड़ी मात्रा हाथ ठेल खड़े होने लगे। इनसे प्रतिदिन एक बड़ी धनराशि किराए के रूप में ली जाती है। यह राशि नगर निगम द्वारा ली जाने वाली राशि से दस गुना ज्यादा है। व्यवसायिक इमारातों के भीतर दोपहिया वाहन पार्किंग की व्यवस्था है। किन्तु बड़े वाहनों को बाहर ही रखना पड़ता है। सड़क किनारे खुम्चा व्यवसायियों को कब्जा है। कुछ दुकान दार अपने ठेले के आसपास चार से पांच कुर्सिया भी रख देते है। ऐसे में पार्किंग की जगह व्यवसाय ने ले ली है। सब कुछ जानते हुए भी यातायात पुलिस ठेले वालों के पक्ष में क्योंकि उन्ही से उसे अपना हफ्ता मिलता है। 

error: Content is protected !!