ट्रेन मे मिली लावारिस बैग सुरक्षा बल के जवान और टी टी रहे नदारद

मदन महल – जबलपुर – डब्लू सी आर पश्चिम मध्य रेलवे के बीच उस समय यात्रियों में हडकंप मचा जब एक यात्री ने ट्रेन के टॉलेट में लावारिस हालत में रखा बैग देखा और उसकी सुचना आकर ट्रेन मे सफर कर रहे और भी यात्रियों को दी और यात्रियों ने जब जाकर टॉलेट खोला तो वहाँ एक भारी वजनदार बैग मिला आनन फानन में यात्रियों ने रेलवे सुरक्षा बल व टीटी से सम्पर्क करना चाहा पर ट्रेन के किसी भी बोगी में न तो रेलवे सुरक्षा बल के जवान दिखे न ही टीटी साहब नजर आए इसके बाद यात्रीयों ने जबलपुर रेलवे प्रशासन से बात करना उचित समझा जो की सफर से 3 किलोमीटर शेष था ट्रेन में सफर कर रहे यात्री डर के साए में नजर आए और एक अव्यवस्था ट्रेन में सफर कर रहे यात्रीयों की सुरक्षा तो दिखी ही नही जहां भारतीय रेल्वे के द्वारा पैसेंजर की सुरक्षा के लिये तरह तरह के वादे किये जाते हैं पर घटनाक्रम पर रेल्वे की कमी साफ दिखी और यात्रीयों ने जबलपुर पहुंचने तक का इंतजार किया यह वाक्या दिनांक 13-4-2018 का है जब इंदौर से बिलासपुर जाने वाली नर्मदा एक्सप्रेस की बोगी क्रमांक (S7) मे यात्री यात्रा कर रहे थे यात्रियों को भयभीत देख यात्रा कर रहे मध्यप्रदेश के एक पुलिस आरक्षक मनीष शर्मा ने हिम्मत दिखाते हुए बैग को शौचालय से बाहर निकल कर बैग खोला तो उसमे से कई जोड़े जूते स्क्रू ड्राइवर रस्सी का बंडल निकला जानकारों के मुताबिक रात मे कोई चोर बैग को शौचालय मे छोड़ कर भाग गया तब जाकर यात्रियों ने चैन की सांस ली इस पूरे घटना क्रम मे न तो रेलवे सुरक्षा बल के जवान नजर आए और न ही टी टी साहब सवाल यह है कि ट्रेन मे सफर कर रहे यात्रियों के सुरक्षा की जिम्मेदारी किसकी है। क्योंकि जिम्मेदार लोग तो अपनी जिम्मेदारी से मुंह मोड़ते नजर आए।

error: Content is protected !!