संसदीय सचिवों के मामले में कोर्ट ने किया है न्याय: डॉ रमन सिंह

०० हाईकोर्ट के फैसले से दूध का दूध और पानी का पानी हो गया : धरमलाल कौशिक 

रायपुर| संसदीय सचिवों के मामले में हाईकोर्ट के फैसले पर मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने कहा कि ये तो होना ही था,न्याय हमेशा मिलता है,कोर्ट ने न्याय किया है वही भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि हाईकोर्ट के फैसले से दूध का दूध और पानी का पानी हो गया है।  

गौरतलब है कि बिलासपुर हाईकोर्ट ने अपने फैसले में संसदीय सचिवों की नियुक्ति को सही ठहराया है, कोर्ट अपने फैसले में राज्य सरकार द्वारा की गई नियुक्ति को बरकरार  दिया है| हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस राधाकृष्णन और जस्टिस शरद गुप्ता की खंडपीठ ने ये फैसला सुनाया| माननीय उच्च न्यायालय के संसदीय सचिव वाले मामले में फैसला आने के बाद मुख्यमंत्री ने याचिकाकर्ताओं मोहम्मद अकबर और राकेश चौबे पर तंज कसते हुए कहा कि इनके पास कोई काम नहीं है वही भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि फैसले से दूध का दूध और पानी का पानी हो गया है। उच्च न्यायालय के फैसले से हम खुश है कि न्याय मिला।उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी नकारात्मक राजनीति छोड़ सकारात्मक राजनीति कर जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका निभायें। इस फैसले के बाद कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस पार्टी के नेताओं की विश्वनीयता और घटी है। जनता के सामने कांग्रेस पार्टी बेनकाब हुई है।

error: Content is protected !!