पंचायत राज शसक्तीकरण में अच्छे काम के लिए कोरिया ने फिर जीते 3 राष्ट्रीय पुरूस्कार

 

जनपद पंचायत खड़गंवा को 25 लाख व ग्राम पंचायत गढ़तर और जरौंधा को मिलेंगे 10 – 10 लाख रूपए

चंद्रकांत गढ़वाल (बैकुण्ठपुर – कोरिया) जिले में पंचायती राज के जमीनी क्रियान्वयन में पूरी टीम सक्रिय है और इसी का परिणाम है कि गत तीन वर्षों से जिले को राष्ट्रीय स्तर पर प्रदान किए जाने वाले पंचायती राज सशक्तीकरण के त्रिस्तरीय पुरूस्कार मिल रहे हैं। वर्ष 2016-17 में पंचायती राज के त्रिस्तरीय व्यवस्था में बेहतर काम करने के लिए जनपद पंचायत खड़गंवा को और ग्राम पंचायत गढ़तर और जरौंधा को राष्ट्रीय पंचायत सशक्तीकरण पुरूस्कार के लिए चयनित कर लिया गया है। गत दिवस इसके संबंध में केंद्रीय पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्रालय से पत्र जारी हुआ। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती तूलिका प्रजापति और उनकी पूरी टीम को बधाई देते हुए जिले के कलेक्टर नरेंद्र कुमार दुग्गा ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाने में खड़गंवा की टीम बधाई की पात्र है। उन्होने पंचायती राज के सफल क्रियान्वयन के लिए जनपद पंचायत ख़डगंवा के मुख्यकार्यपालन अधिकारी एम एल वर्मा और जनपद अध्यक्ष ह्दय सिंह मरकाम तथा ग्राम पंचायत गढ़तर के सरपंच राजकुमार सिंह उइके और जरौंधा के सरपंच श्रीमती सुकबरिया कोराम और दोनेा ग्राम पंचायत के सचिवों को भी इस पुरूस्कार के लिए राष्ट्रीय स्तर पर चयनित होने के लिए बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। विदित हो कि इस पुरूस्कार के तहत जनपद पंचायत खड़गंवा को 25 लाख रूपए तथा ग्राम पंचायतों को 10-10 लाख रूपए व सम्मान पत्र केंद्रीय मंत्रालय द्वारा दिया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि गत तीन वर्षों से कोरिया राष्ट्र स्तर पर  इन पुरूस्कारों को अपने लिए जीत रहा है। दो वर्ष पूर्व कोरिया के शिवपुर पंचायत ने यह पुरूस्कार अपने नाम किया था। इसके बाद कोरिया जिले ने गत वर्ष जिला स्तर का पुरूस्कार अपने नाम किया है। लगातार तीसरे वर्ष जिले ने जनपद और ग्राम पंचायत स्तर के दो पुरूस्कार अपने खाते में दर्ज कराए हैं। पंचायत राज सशक्तीकरण के लिए बेहतर काम करने वाली त्रिस्तरीय संस्था जिला पंचायत, जनपद पंचायत और ग्राम पंचायतों को यह पुरूस्कार दिए जाते हैं पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्रालय के द्वारा प्रतिवर्ष तीन स्तर पर यह पुरूस्कार दिए जाते हैं। इस संबंध में जिला पंचायत की मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्रीमती तूलिका प्रजापति ने बताया कि जिले में पंचायतों के बेहतर ढंग से मजबूत होकर काम करने का यह सफल परिणाम है। गांवों में जागरूकता के साथ सभी क्षेत्रों में अच्छा काम करने पर मिलने वाला पुरूस्कार यह बतलाता है कि हम सही दिशा में जा रहे है। उन्होने बताया कि इस पुरूस्कार के लिए केंद्र शासन द्वारा कई कड़े मापदंड रखे जाते हैं। जिनमें ग्राम पंचायत के दस्तावेजीकरण से लेकर महिलाओं के सहभागिता तक लगभग 23 से ज्यादा विषय शामिल होते हैं इन सभी क्षेत्रों में बेहतर काम करने वाली पंचायतों को आनलाइन अपनी कामों की स्थिति से लेकर कार्यप्रणाली का विवरण भरना होता है। इसके बाद इन सभी कार्यक्षेत्रों की राज्य व केंद्र के दल द्वारा दो बार अलग अलग स्तर पर पड़ताल की जाती है। इसके बाद जांच दल के अनुशंसा के बाद ही चयन की कार्यवाही पूरी होती है। श्रीमती तूलिका प्रजापति ने कहा कि हमारे लिए यह गौरव की बात है कि हम लगातार राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना रहे हैं। यह पुरूस्कार जीतने पर जनपद पंचायत खड़गंवा को आगामी पंचायत दिवस पर होने वाले राष्ट्रीय स्तर के आयोजन में 25 लाख रूपए तथा ग्राम पंचायतों को 10-10 लाख रूपए व सम्मान पत्र दिया जाएगा। जिला पंचायत की मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्रीमती तूलिका ने टीम खड़गंवा के सभी सदस्यों और मुख्यकार्यपालन अधिकारी वर्मा तथा ग्राम पंचायत गढ़तर और जरौंधा के सरपंच और ग्राम पंचायत की पूरी टीम को पुरूस्कार जीतने पर बधाई दी।

error: Content is protected !!