प्रदेश में फिर हुआ आंख फोड़वा कांड, आपरेशन के बाद गई  5 मरीजों की आंखों की रोशनी

०० रायपुर के एम्स अस्पताल किया गया था 5 मरीजों के मोतियाबिंद के ऑपरेशन

०० एक-एक कर सभी मरीजों की पूरी तरह चली गई आंखों की रोशनी  

रायपुर। छत्तीसगढ़ में एक और आंख फोड़वा कांड सामने आया है। रायपुर एम्स में 5 अप्रैल को 5 मरीजों के मोतियाबिंद के ऑपरेशन किए गए थे। एक-एक कर इन सभी मरीजों की आंखों की रोशनी पूरी तरह चली गई। फिलहाल इन सभी को एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के मुताबिक रायपुर एम्स में 5 मरीजों के मोतियाबिंद के ऑपरेशन किए गए थे। ये सभी मरीज 60 साल और उससे ज्यादा की उम्र के हैं। लेकिन ऑपरेशन के बाद इन सभी पांचों मरीजों की एक-एक कर आंखों की रोशनी चली गई। शिकायत लेकर जब ये सभी मरीज एम्स अस्पताल पहुंचे तो मामले की गंभीरता का पता चला। आनन फानन में इन मरीजों को एमजीएम अस्पताल में भर्ता कराया गया है। अस्पताल के रिकॉर्ड के मुताबिक कुशाल सिंह, मानवेंद्र बनावल, रामकिशन सोनी, तिलकराम कोठारे और योगेश पांडेय नामक मरीजों के ऑपरेशन किए गए थे। इन सभी की आंखों की रोशनी पूरी तरह चली गई है। जब मरीज और उनके परिजन शिकायत लेकर एम्स पहुंचे तो वहां के स्टाफ ने उन्हें संतोषजनक जवाब नहीं दिए। जिससे मरीजों के परिजन नाराज हो गए। गुस्साए परिजनों ने मेडिकल सुप्रिडेंट दानी का घेराव कर दिया। परिजनों के हंगामे के बाद मरीजों को एमजीएम अस्पताल रैफर कर दिया गया।फिलहाल पांचों मरीज आगे के इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल में भर्ती हैं।

 

 

error: Content is protected !!