रायपुर पहला ऐसा जिला जहां प्रतीक्षा सूची के सभी लोगों को अप्रैल माह तक मिल जाएगी आवास की स्वीकृति: कलेक्टर चौधरी

०० खम्हरिया शिविर में ग्रामीणों को नया राशन कार्ड, श्रम कार्ड और आवास की मिली स्वीकृति

०० किसानों को मिला बैटरी स्प्रेयर पंप, आईस बॉक्स और मत्स्य जाल का वितरण

रायपुर| लोक सुराज अभियान के तहत आज जिले के आरंग विकासखण्ड के ग्राम खम्हरिया में आयोजित लोक समाधान शिविर का आयोजन किया गया। कलेक्टर ओ.पी.चौधरी ने की उपस्थिति में विभागीय अधिकारियों ने लोगों द्वारा दिए गए आवेदनों पर की गई कार्यवाही की विभागवार जानकारी प्रदान की गई। शिविर को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री ओ.पी.चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत रायपुर जिले में जिनका ही नाम प्रतीक्षा सूची में है, उन्हें चिंता करने की जरूरत नही है, उन सभी को आगामी अप्रैल माह के अंत तक आवास की स्वीकृति मिल जाएगी। उन्होंने बताया कि रायपुर ऐसा पहला जिला होगा जहां प्रतीक्षा सूची के शतप्रतिशत लोगों को अगले माह आवास की स्वीकृति मिल जाएगी। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि प्रतीक्षा सूची के बाद भी यदि कोई जरूरतमंद छूट गया है तो ग्रामसभा उसका प्रस्ताव कर जनपद और जिला पंचायत भेज सकते है जहां से उनका नाम इसमें शामिल किया जाएगा और अगले साल उन्हें भी आवास की स्वीकृति मिल जाएगी। कलेक्टर ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास की प्रतीक्षा सूची जिले के सभी ग्राम पंचायतों की दीवालों में लिखायी गई है जिससे आवेदकों को इसकी जानकारी हो सके।
कलेक्टर ने कहा कि किसी भी समाज के विकास के लिए शिक्षा बहुत जरूरी है। इसलिए सभी अपने बच्चों को स्कूल और आंगनबाड़ी जरूर भेजें और खुद देंखे कि वहां शिक्षक आ रहे है कि नही। ग्राम पंचायत को यह अधिकार दिया गया है कि उनके प्रस्ताव के बाद ही शिक्षकों को वेतन दिया जाएगा। कलेक्टर ने कहा कि गांव के विकास में ग्रामसभा की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका होती है, उनके द्वारा पारित प्रस्तावांे के आधार पर ही गंाव में विकास कार्य कराए जाते है। अतः सभी लोग ग्राम सभा  में अनिवार्य रूप से उपस्थित होंवे। कलेक्टर ने ग्रामीणों को बताया कि किसी भी तरह की गंभीर बिमारी के ईलाज के लिए मुख्यमंत्री संजीवनी कोष से दो लाख रूपए तक की सहायता राशि मुहैया करायी जाती है। प्राकृतिक आपदा में मृत्यु होने पर उनके आश्रितों को सरकार द्वारा 4 लाख रूपए की सहायता राशि का प्रावधान है। शिविर में क्षेत्र के पंचायत पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे। शिविर में उपस्थित लोगों को नया राशनकार्ड, श्रम कार्ड, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अधिकार पत्र प्रदान किए। विद्युत विभाग की सौभाग्य योजना के तहत 10 हितग्राहियों को कनेक्शन की स्वीकृति प्रदान की गई। कृषि विभाग की योजना के तहत किसान श्री सुरेन्द्र वर्मा को बैटरी चलित स्पैयर, मछली पालन विभाग द्वारा फुटकर विक्रय योजना के तहत 10 मत्स्यपालक किसानों को आईस बॉक्स और उतने ही किसानों को जाल प्रदान किया गया।
 

error: Content is protected !!