जोगी-रमन की सांठगांठ फिर से उजागर हुयी, पुनिया जी का बयान तो बहाना था: कांग्रेस

०० राज्यसभा चुनावों के मतदान पर कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल व नेताप्रतिपक्ष सिंहदेव ने दी तीखी प्रतिक्रिया 

रायपुर। राज्यसभा चुनाव परिणामों के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल और कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा है कि छत्तीसगढ़ सत्य बलिदान और प्रेम में विश्वास रखने वालों का प्रदेश है। छत्तीसगढ़ की अस्मिता की संज्ञा सीधे सरल स्वाभिमानी व्यक्ति को ही दी जा सकती है। पुनिया जी ने कोई गलत बात नहीं कही। अंतागढ़ में मिलकर की गई खरीद फरोख्त से लोकतंत्र की हत्या और जाति प्रमाण पत्र में बार-बार स्पष्ट सांठगांठ के बाद अब राज्यसभा चुनावों के लिये हुये मतदान से जोगी-रमन की सांठगांठ फिर से उजागर हुयी है।

यह साबित हो गया है कि पुनिया जी का बयान तो एक बहाना था, असली मकसद रमन से पैसे कमाना था। पहले कांग्रेस प्रत्याशी लेखराम साहू के पक्ष में मतदान करने की बात कहकर आज छत्तीसगढ़ प्रभारी पी.एल. पुनिया के द्वारा किसी का नाम लेकर नहीं कही गयी बात को खुद अजीत जोगी के नाम से जोड़कर तीन विधायकों ने राज्यसभा चुनाव के लिये मतदान नहीं किया जिससे जोगी पार्टी का चरित्र भी जगजाहिर हो गया है। छत्तीसगढ़ प्रभारी पी.एल. पुनिया ने तो किसी को नाम लेकर जयचंद नहीं कहा था। आज यह बात एक बार फिर से उजागर हो गयी है कि जोगी पार्टी भाजपा की बी-टीम है और उसी से मदद लेती है और उसी की मदद करती है।

छत्तीसगढ़ प्रभारी पी.एल. पुनिया का बयान अब की बार और पहले में बहुत फर्क है। पहले कुछ लोग ऐसे थे जो पार्टी में रहकर पार्टी के खिलाफ काम करते थे। अब यहां कोई ऐसा व्यक्ति नहीं है, कोई जयचंद नहीं है। भारतीय जनता पार्टी को जीताने का काम करते थे ऐसे जयचंद अब पार्टी से विदा हो चुके है। उस तरह की परिस्थितिया आज नहीं है जो हमारा प्रदेश का नेतृत्व है एकजुट होकर लगा है। सबने एकजुट होकर संकल्प लिया है प्रदेश के हित में प्रदेश के विकास के लिये हर हालात में कांग्रेस की सरकार बनायेंगे और प्रदेश का विकास होगा।

 

 

error: Content is protected !!