भाजपा की राज्यसभा प्रत्याशी सरोज पाण्डेय जीती, मिले 51 वोट

०० कांग्रेस प्रत्याशी लेखराम साहू को हार का सामना करना पड़ा कांग्रेस को मिले 36 वोट

रायपुर| राज्यसभा के एकमात्र सीट के लिए छत्तीसगढ़ में हुए मतदान का रिजल्ट घोषित हो गया है। बीजेपी प्रत्याशी सरोज पाण्डेय ने 51 वोट हासिल कर चुनाव जीत गई हैं। मतगणना पूरी होने के बाद जैसे ही निर्वाचन अधिकारियों ने सरोज पाण्डेय की जीत का ऐलान किया बीजेपी के विधायकों और कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर दौड़ गई। विधानसभा के बाहर पटाखे फोड़ कर कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे को बधाई दी। जीत के बाद सरोज पाण्डेय ने कहा कि बीजेपी के अलावा हमें निर्दलीय विधायक का पूरा समर्थन मिला जिसकी वजह से बीजेपी ने बड़ी जीत हासिल की। इधर हार के बाद एक बार फिर कांग्रेस पार्टी में मायूसी छा गई।

राज्यसभा चुनाव के पहले मुख्यमंत्री रमन सिंह के निवास में बीजेपी विधायकों की बैठक हुई जिसमें वोट डालने की प्रक्रिया से अवगत कराया गया। बैठक में सभी विधायकों को हर हाल में उनके पक्ष में वोटिंग करने केलिए कहा गया और आज मतदान के दौरान एेसा ही हुआ। बीजेपी को अपने 49 विधायकों का समर्थन मिला। इसके अलावा बसपा और एक निर्दलीय का भी समर्थन मिला। इधर विपक्षी कांग्रेस पार्टी समर्थित वोट भी नहीं जुटा पाई। आलम यह रहा कि प्रत्याशी लेखराम साहू को हार का सामना करना पड़ा। तीन वोट खराब होने के बाद कुल 87 पड़े थे जिसमें कांग्रेस को 36 और बीजेपी को 51 वोट मिले।

दिन भर चला अमित जोगी का ड्रामा:- जोगी समर्थक के तीन विधायक अमित जोगी, सियाराम कौशिक और आरके राय ने आज दिनभर ड्रामा करने के बाद वोटिंग नहीं कर मतदान का बहिष्कार कर दिया। अमित जोगी ने दोपहर में कांग्रेस के पक्ष में वोट देने की बात कही थी। लेकिन जोगी ने ये शर्त रखी थी कि प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया जब तक माफी नहीं मांगेंगे तब तक वोट नहीं देंगे। तीनों विधायकों ने कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को एक पत्र भी लिखकर भेजा था। जिसमें कांग्रेस माफीनामा देने की अपील की थी, लेकिन ऐसा नही हुआ 4 बजे तक अमित जोगी को इसका जवाब नहीं मिलने पर चुनाव बहिष्कार का एलान कर दिया।

error: Content is protected !!