पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते पटवारी रंगे हाथों गिरफ्तार

०० जमीन का नामांतरण करने और ऋण पुस्तिका बनाकर देने के एवज में पटवारी ने की थी 25 हज़ार की मांग

रायपुर|बेमेतरा जिले के साजा इलाके में गुरुवार को एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने छापा मारा। इस दौरान पटवारी कन्हैया सिंह ठाकुर को 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। पटवारी पर आरोप है कि शिकायतकर्ता के जमीन का नामांतरण करने और ऋण पुस्तिका बनाकर देने के एवज में 25,000 रुपए रिश्वत की मांग की थी।

मिली जानकारी के अनुसार ग्राम भैंसामुड़ा निवासी मीनाराम साहू अपने पिता के निधन के बाद उनके नाम की जमीन को 3 भाईयों के नाम चढ़ाने के लिए साजा में पटवारी कन्हैया ठाकुर सिंह से मुलाकात की। पटवारी ने इस काम के लिए मीनाराम से 25 हजार रुपए रिश्वत की मांग की। मीनाराम ने पटवारी द्वारा मांगी रिश्वत को दे दिया लेकिन इसके बाद भी कन्हैया ने जमीन का नामांतरण करने और ऋण पुस्तिका बनाकर नहीं दिया। कुछ दिन बाद मीनाराम ने पटवारी से सम्पर्क किया इस पर पटवारी ने मीनाराम से 5 हजार रुपए फिर से रिश्वत की मांग की और गुरुवार को साजा कार्यालय में आने के लिए कहा। पटवारी की इस हरकत से मीनाराम काफी नाराज हुआ और उसने एंटी करप्शन ब्यूरो से सम्पर्क किया और पटवारी के करतूतों की पूरी जानकारी दी। एसीबी की टीम ने मीनाराम की शिकायत को गंभीरता से लिया और पटवारी को रंगे हाथ गिरफ्तार करने की योजना बनाई। मीनाराम भी एसीबी की योजना के तहत रिश्वत की राशि 5 हजार रुपए लेकर गुरुवार को पटवारी के साजा कार्यालय पहुंचा। मीनाराम के साथ एसीबी की टीम भी मौजूद थी। मीनाराम जैसे उसके कार्यालय गया और उसे 5 हजार रुपए रिश्वत देने लगा तभी एसीबी अफसरों ने दबिश दी और पटवारी को रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा लिया। पटवारी से एसीबी की टीम पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि इसके पहले भी आरोपी पटवारी के खिलाफ कई शिकायतें मिल चुकी हैं पटवारी की गिरफ्तारी से साजा में हड़कप की स्थिति है।

error: Content is protected !!