गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड सर्टिफिकेट को प्रमुख सचिव स्वास्थ्य को सौंपा

००  प्रमुख सचिव स्वास्थ्य सुब्रत साहू ने स्वास्थ्य संचालक सहित पूरी टीम को दी बधाई

रायपुर| स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा 21 मार्च को सिकलसेल जांच के गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड के लिए पूरे प्रदेश में व्यापक अभियान चलाया गया। इस अभियान में  एक ही दिन सात लाख 53 हजार 339 गर्भवती महिलाओं और 18 वर्ष उम्र तक के बच्चों का सिकलिन जांच कर गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड बनाया गया।

वर्ल्ड रिकार्ड के मापदंण्ड को पूरा करने पर गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड के इण्डिया हेड श्री मनीष विश्नोई ने 21 मार्च को संचालक दल को गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड का सर्टिफिकेट प्रदान किया, जिसे आज 22 मार्च को स्वास्थ्य विभाग की संचालक श्रीमती रानू साहू सहित अधिकारियों ने स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव श्री सुब्रत साहू को सौंपा। श्री साहू ने इस अभियान को सफल बनाने और वर्ल्ड रिकार्ड  काम करने के लिए विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों और सहयोगियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर अतिरिक्त परियोजना संचालक डॉ.एस.के.बिंझवार, संयुक्त संचालक श्री महेन्द्र जंघेल, राज्य कार्यक्रम प्रबंधक श्री उरिया नाग, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री विजयेन्द्र कटरे उपस्थित थे।

 

error: Content is protected !!