लोक सुराज अभियान : मुख्यमंत्री पहुंचे गरियाबंद जिले के माड़ागांव के समाधान शिविर

०० सुपेबेड़ा के किडनी के रोग से प्रभावित 96 परिवारों को 50-50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता और राशन कार्ड बनवाने की घोषणा

०० बीज मिनीकिट नहीं बांटने की शिकायत, मुख्यमंत्री ने दिए वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी के निलंबन के निर्देश

रायपुर| मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज लोक सुराज अभियान के दौरान गरियाबंद जिले के देवभोग विकासखंड के उड़ीसा सीमा से लगे ग्राम माड़ागांव में आयोजित समाधान शिविर पहुंचे। मुख्यमंत्री ने गरियाबंद जिले के सुपेबेड़ा के किडनी बीमारी से प्रभावित 96 परिवारों को 50-50 हजार रुपये की सहायता राशि देने एवं उनका राशन कार्ड बनवाने की घोषणा की। समाधान शिविर में किसानों ने गांव में बीज मिनीकिट वितरण नही करने की शिकायत की, जिस पर मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी श्री ललित यादव को निलंबित करने के निर्देश दिए।
डॉ. सिंह ने ग्रामीणों के आग्रह पर माड़ागांव एवं उमराईकला में नल जल योजना की स्वीकृति दी और झाखरपारा में ग्रामीण बैंक खोलने की घोषणा की। माड़ागांव मिडिल स्कूल में अहाता निर्माण की घोषणा। मुख्यमंत्री ने राजस्व विभाग के अधिकारियों को माड़ागांव में कैम्प लगाकर एक सप्ताह के भीतर नामांतरण, बंटवारा एवं सीमांकन कर प्रकरणों का निराकरण करने के निर्देश दिए। डॉ. सिंह ने शिविर में बताया कि प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना के अंतर्गत गरियाबंद जिले में मई माह के अंत तक लक्षित सभी 14 हजार घरों में बिजली पहुंचा दिया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि देवभोग अंचल में लो वोल्टेज की समस्या को दूर करने केन्डागांव में 132 केवी सब स्टेशन का कार्य जल्द शुरू किया जाएगा। समाधन शिविर में मुख्यमंत्री ने सभी विभागों के अधिकारियों को मंच पर बुलाकर उनके विभाग की योजनाओं की प्रगति की जानकारी ली। शिविर में संसदीय सचिव गोवर्धन मांझी, मुख्य सचिव श्री अजय सिंह, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री अमन कुमार सिंह और विशेष सचिव श्री मुकेश बंसल, कलेक्टर गरियाबंद श्रीमती श्रुति सिंह सहित अनेक जनप्रतिनिधि और ग्रामीण बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

 

 

error: Content is protected !!