नक्सली हमले में 9 जवान शहीद, राजनाथ सिंह ने सीआरपीएफ डीजी को भेजा छत्तीसगढ़

०० सर्चिंग पर निकले थे सीआरपीएफ की 212 बटालियन के जवान

०० नक्सलियों के आईईडी विस्फोट से एंटी लैंडमाइन व्हिकल हुआ क्षतिग्रस्त

रायपुर/सुकमा| सुकमा के किस्टाराम में मंगलवार को सर्चिंग पर निकले सीआरपीएफ की बटालियन पर नक्सलियों ने हमला बोल दिया। आईईडी ब्लास्ट में 9 जवान शहीद हो गए। दो जवान घायल हैं। हमले के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सीआरपीएफ डीजी को छत्तीसगढ़ भेजा है। हमले में शहीद और घायल जवानों को एयरलिफ्ट करके रायपुर लाया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक मंगलवार दोपहर सुकमा के किस्टाराम में सीआरपीएफ की एक बटालियन पर नक्सलियों ने धावा बोल दिया| नक्सली घात लगाए बैठे थे बताया जा रहा है कि आईईडी विस्फोट के चलते सीआरपीएफ के 8 जवान शहीद हो गए जबकि, तीन घायल हुए। घायलों में एक जवान की बाद में मौत हो गई। ये हमला सीआरपीएफ की 212 बटालियन पर हुआ। स्पेशल डीजी नक्सल ऑपरेशन डीएम अवस्थी ने बताया, ”सीआरपीएफ के जवान एंटी लैंडमाइन व्हिकल से किस्टाराम से पैलोडी की ओर जा रहे थे। इसी दौरान रास्ते में आईईडी ब्लास्ट होने से 9 जवान शहीद हो गए। मौके पर रेस्क्यू के लिए फोर्स पहुंच चुकी है वहां फिलहाल गोलीबारी जैसी कोई घटना नहीं हो रही है।”बता दें कि होली के दिन 2 मार्च को तेलंगाना-छत्तीसगढ़ की सीमा पर ग्रेहाउंड और स्टेट पुलिस ने नक्सलियों की शादी में धावा बोलकर दस नक्सलियों को मार गिराया था। इनमें 6 महिला नक्सली भी मारी गई थीं। इसके बाद से नक्सली बहुत बौखलाए हुए हैं।

राजनाथ सिंह ने हमले के बाद किया ट्वीट :- हमले के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, ”मेरी मारे गए जवानों के परिवार के साथ है। मैं घायल जवानों के जल्द स्वस्थ होनेे की कामना करता हूं। मैंने सीआरपीएफ डीजी से इस बारे में बात की है और उन्हें छत्तीसगढ़ जाने को कहा है।”

6 दिन पहले भी हुआ था हमला :- 7 मार्च को आईईडी ब्लास्ट में कांकेर में रावघाट थाना के किलेनार इलाके में घात लगाए नक्सलियों ने बीएसएफ पार्टी पर हमला कर दिया था। नक्सलियों द्वारा किए गए ब्लास्ट की चपेट में आने से बीएसएफ के असिस्टेंट कमांडेंट व एक जवान शहीद हो गए थे।18 फरवरी को सुकमा में ही सिक्युरिटी फोर्सेस और नक्सलियों के बीच 5 हुई मुठभेड़ में दो जवान शहीद हुए थे। एक नक्सली भी मारा गया। नक्सलियों ने ये हमला जिले की एलाड़मड़गु में सड़क निर्माण रोकने के लिए किया था। हमले में 6 जवान घायल हुए थे। नक्सलियों ने कंस्ट्रक्श कंपनी का काम देख रहे मुंशी का भी गला रेत दिया था वहीं 24 जनवरी को नारायणपुर जिले के इरपानार के जंगलों में नक्सलियों से हुई मुठभेड़ में 4 जवान शहीद हो गए थे। जबकि 11 घायल हुए थे। उसी दिन बीजापुर में हुए आईईडी ब्लास्ट में एक जवान घायल हो गया था।

 

error: Content is protected !!