सिपाही ने चार ग्रामीणों को गोली मारकर की आत्महत्या

०० सिपाही की गोली से घायल ग्रामीणों की स्थिति नाजुक, अस्पताल में कराया गया भर्ती

रायपुर/राजनांदगांव। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष दिनेश गांधी के निजी सुरक्षा गार्ड ने चार ग्रामीणों को गोलीमार खुद आत्महत्या कर ली। ग्रामीणों की स्थिति नाजुक है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यहां उनका इलाज चल रहा है। इस घटना से गांव में भारी दहशत का माहौल है। बताया जा रहा है कि पीएसओ मानसिक रूप से काफी बीमार था।

मिली जानकारी के मुताबिक मामला राजनांदगांव के आगे बालोद की ओर जाने वाली सड़क पर संबलपुर डौंडी लोहारा के पास की है। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष दिनेश गांधी के पीएसओ पोकराम चंद्रवंशी की मानसिक हालत काफी खराब होने के बाद उन्हें कुछ लोग गाड़ी में बैठाकर इलाज के लिए ले जा रहे थे। जब गाड़ी संबलपुर डौंडी लोहरा के पास पहुंची तो अचानक रात में चंद्रवंशी ने साथियों पर अपनी पिस्तौल तान दी हड़बड़ाकर सभी वहां से भाग निकले इधर गुस्से में पोकराम गांव के ही एक घर की ओर गया। वहां बंद दरवाजे को तोड़ दिया और भीतर घुस गया।भीतर तीन लोग गहरी नींद में सोए थे। उनपर पिस्तौल से फायर करने के बाद बाहर निकला। बाहर निकल गली की ओर जा रहा था। उधर से आ रहे एक और शख्स को अपनी गोली का निशाना बनाया फिर खुद को गोली मार ली। पोकराम की मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना के बाद स्थानीय लोग जाग गए और वहां पहुंचे तो नजारा देख सन्न रह गए तुरंत पुलिस को घटना की सूचना दी गई। डौंडीलोहरा थाना पुलिस ने घटना में घायल ग्रामीण हलेश कुमार, मोहन राम , दसोदा बाई और मनोज कुमार को अस्पताल में भर्ती कराया गया। 3 लोगों की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें राजनांदगांव रेफर किया गया है। स्थानीय लोगों ने बताया कि कुछ महीने पूर्व अधिक शराब पीने की लत के कारण आरोपी की पत्नी भी उसे छोड़कर मायके चली गई थी इसके बाद से उसका मानसिक संतुलन बिगड़ गया था।

 

error: Content is protected !!