पति के कातिलों को सजा दिलाने दर दर भटक रही है महिला 

०० पति के हमलावरों की सीसीटीवी फुटेज पुलिस को सौपने के बाद भी कार्यवाही नहीं

०० पुलिस प्रशासन भी नही सुन रहा महिला की फरियाद

०० महिला सशक्तिकरण के नाम पर अवार्ड लेने वाली छत्तीसगढ़ सरकार महिलाओं के प्रति नहीं है जिम्मेदार                                                      

रायपुर| अन्तराष्ट्रीय महिला दिवस पर छत्तीसगढ़ राज्य को तीन-तीन पुरुस्कारों से नवाजा जा रहा है वही एक महिला के पति की हत्या के आरोपियों को पुलिस पकड़ने में जमकर कोताही बरत रही है| महिला द्वारा पति की हत्या के आरोपियों की सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस को मुहैया कराने के बावजूद पुलिस लापरवाही बरत आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही नहीं कर रही है| महिला शसक्तिकरण के नाम पर अवार्ड लेने वाली छत्तीसगढ़ की सरकार महिलाओं के प्रति कितनी जिम्मेदार है इसकी वास्तविकता जमीनी स्तर पर बिल्कुल भिन्न है। ऐसे में क्या प्रदेश को मिले सम्मान के बाद एक महिला को न्याय के लिए भटकना प्रदेश सरकार की असफलता को सिद्ध नहीं कर रहा है|

रायपुर के कबीरनगर मे रहने वाली ज्योति द्विवेदी पति स्व. सजंय द्विवेदी ने 5 से 6 महीने पहले 14 सितम्बर 2017 को जब ज्योति द्विवेदी के पति बजरंग रेस्टोरेंट से अपना ड्यूटी खत्म कर देर रात वापस घर जा रहे थे। तभी मोहबा बाजार से कबीरनगर रोड अंडर ग्राउंड ब्रिज के आगे लगभग 1.30 बजे अज्ञात हमलावरों ने पीछे से वार कर संजय द्विवेदी को गंभीर रूप से घायल कर फरार हो गए जिसकी सूचना लिखित मे 3/10/2017 को सरस्वती नगर थाना और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को भी दी गई थी। लेकिन आज दिनाँक तक किसी भी प्रकार से पुलिस द्वारा मामले की कार्यवाही नही कि गई है। दरअसल पूरा मामला परिवार से जुड़ा है। ज्योति द्विवेदी ने बताया कि उनके मामा ससुर और देवर ने ही मेरे पति पर हमला करवाया है और मेरे पति जो कि कोमा कि स्थिति मे सुयश हॉस्पिटल मे एडमिट थे और जब मै हॉस्पिटल आना जाना कर रही थी तो मुझे भी गाली गलौज और  जान से मारने की धमकी दी जाती थी मेरे देवर और मामा ससुर द्वारा इन सब से लड़ते झगड़ते मै अपने पति के देख भाल मे लगी रही। लेकिन आज मेरे पति इस दुनिया मे नही रहे जबकि घटना कि फुटेज भी कैमरे मे रिकार्ड हो चुकी है फिर भी पुलिस कार्यवाही नही कर रही है।

 

 

 

error: Content is protected !!