गर्मियों में पेयजल व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त बनाए रखने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री ने दिए निर्देश

०० बिगड़े हेंडपम्पों का 36 घंटे के भीतर होगा सुधार, जिलों में 16 से 31 मार्च तक चलेगा ’’विशेष हेंडपम्प संधारण पखवाड़ा कार्यक्रम’’

रायपुर| गृह तथा लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री रामसेवक पैंकरा ने आज यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में प्रदेश के पेयजल व्यवस्था की विस्तार से जिलेवार समीक्षा की। उन्होंने सभी अधिकारियों को गर्मियों में पेयजल व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त बनाए रखने के लिए सख्त निर्देश दिए। उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि बिगड़े हेंडपम्प की सूचना मिलने पर उसका 36 घंटे के भीतर हर-हालत में सुधार सुनिश्चित हो जाए।
पैंकरा ने सभी विभागीय अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में नियमित रूप से भ्रमण करते हुए पेयजल व्यवस्था पर निगरानी रखने के लिए निर्देशित किया। इनमें दूर-दराज आदिवासी बहुल इलाकों में भी पेयजल व्यवस्था का विशेष ध्यान रखने के लिए कहा। साथ ही इन्हें क्षेत्र में भ्रमण के दौरान ग्राम-पंचायतों के सरपंचों से भी अनिवार्य रूप से भेंट कर वहां पेयजल व्यवस्था की जानकारी लेने आवश्यक निर्देश दिए। श्री पैकरा ने प्रदेश में सुदृढ़ पेयजल व्यवस्था के लिए इस महीने की 16 तारीख से शुरू हो रहे ’’विशेष हेंडपम्प संधारण पखवाड़ा कार्यक्रम’’ के सफल आयोजन के संबंध में भी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया। यह 15 दिवसीय कार्यक्रम अधीक्षण अभियंता की निगरानी में राज्य के समस्त जिलों में 31 मार्च तक चलाया जाएगा। पैंकरा ने इस दौरान अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में सुगम पेयजल व्यवस्था के लिए जरूरत के मुताबिक पाईप लाईन विस्तार, राईजिंग पाईप बढ़ाने का कार्य और आवश्यक सुधार कार्य को गति के साथ पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने हेंडपम्प खनन तथा नल-जल योजना और आवर्धन जल-प्रदाय योजना के स्वीकृत सभी कार्यो को तय सीमा में पूर्ण करने सख्त निर्देश दिए। श्री पैंकरा ने ग्रीष्मकाल में पूर्व स्थिति के अनुसार पेयजल समस्या से प्रभावित ग्रामों का चिन्हांकन और वहां सुगम पेयजल आपूर्ति के संबंध में आवश्यक पहल के लिए भी निर्देशित किया। उन्होंने समस्त जिलों और विकासखंड कार्यालयों में ’’पेयजल निगरानी कंट्रोल रूम’’ स्थापित किए जाने के लिए संबंधित सहायक अभियंताओं तथा उप अभियंताओं के नाम एवं मोबाईल नम्बर सहित आदेश जारी करने के निर्देश भी दिए। इसका जनसम्पर्क विभाग के माध्यम से क्षेत्र में व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया। इस अवसर पर प्रमुख अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री टी.जी. कोसरिया सहित विभाग के मुख्य अभियंता, अधीक्षण अभियंता तथा कार्यपालन अभियंता उपस्थित थे।
 

error: Content is protected !!