कांग्रेस पर परिवारवाद के सारे आरोप निराधार : शैलेश नितिन त्रिवेदी

०० कांग्रेस में परिवार के आधार पर नहीं क्षमता के आधार पर की जाती है नियुक्तियां : कांग्रेस

रायपुर। कांग्रेस पर परिवारवाद के सारे आरोपों को निराधार निरूपित करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस विधायक दल के उपनेता कवासी लखमा की पत्नी का नाम बुदरी कवासी है और वे न तो राजनीति में है और न ही पीसीसी सदस्य बनी है। इसी तरह श्री महेन्द्र बहादुर सिंह को पूर्व मंत्री श्री देवेन्द्र बहादुर सिंह का पिता लिखना गलत है। कांग्रेस में परिवार के आधार पर नहीं क्षमता के आधार पर नियुक्तियां की जाती है। स्वयं कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव पीसीसी सदस्य तक नहीं बने है।

तखतपुर मामले में प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी का जो गुंडाराज है, सरकार का एक हिस्सा संसदीय सचिव जिन्होंने शपथ ली है, कानून की संविधान की, वे उस शपथ का उल्लंघन करके दिन में, रात में अनेकों बार थाने जाते है, टीआई को मारने के लिए खोजते है, उनके गाड़ी में तोड़फोड़ होती है, उनके बेटे गली गलौज करते है वे स्वयं गली गलौज करते है, और अब भाजपा के बड़े नेता उनका समर्थन कर रहे है, उनको संरक्षण दे रहे है। सत्ता के केंद्र के संरक्षण में चल रही सरकारी गुंडागर्दी का जीताजागता सबूत है। ये भाजपा का ये गुंडाराज ट्विटर में देश मे ट्रेंड कर रहा है। छत्तीसगढ़ में रमन सिंह सरकार में जो गुंडाराज चल रहा है कानून का शासन खत्म हो गया है । ये अब बेनकाब हो चुका है। कांग्रेस पर सिर्फ सोशल मीडिया में सक्रिय होने के आरोप का कड़ा प्रतिवाद करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस सोशल मीडिया में भी सक्रिय है, कांग्रेस बूथ कमेटियों में भी सक्रिय है, सदन में भी सक्रिय है, जब आदिवासी भू-राजस्व संहिता में संशोधन का कांग्रेस विरोध करती है, जमीन पर भी सक्रिय है जब आंदोलन करती है, प्रदेश में कांग्रेस की सक्रियता सतत और सभी मामलों में बनी हुई है। डॉ रमन सिंह का कथन कांग्रेस के मामले में सही नही है। मुख्यमंत्री हाथ से सत्ता फिसलने की बौखलाहट में बयानबाजी कर रहे है। कांग्रेस ने मीडिया, सोशल मीडिया, लोगों से संपर्क, पदयात्रा सभी को अपना हथियार बनाया है और सरकार के खिलाफ हर संभव विरोध कार्यक्रम कांग्रेस के द्वारा किये है।

 

error: Content is protected !!