देश मे कांग्रेस कमजोर, क्षेत्रीय पार्टियों के बीच महागठबंधन कर बनेगा थर्ड फ्रंट : अजीत जोगी

०० महागठबंधन में न तो भाजपा से और न ही कांग्रेस से जुड़े दल नहीं होंगे शामिल

०० लोकसभा चुनाव में तीसरा मोर्चा सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ लड़ेगा

रायपुर। जनता कांग्रेस के सुप्रीमों और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि देश में कांग्रेस कमजोर हो गई है और लेफ्ट भी भारत से साफ होती जा रही है, इसलिए अब 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में क्षेत्रीय पार्टियों को एक साथ आकर लडऩा होगा। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव की तैयारी के लिए देश में सभी राज्यों की क्षेत्रीय पार्टियों एक थर्ड फ्रंट बनाने जा रही हैं। जिसकी कवायद शुरु हो गई है।

अजीत जोगी ने कहा कि आने वाले लोकसभा चुनाव में तीसरा मोर्चा सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ लड़ेगा। इसमें सपा से अखिलेश यादव ,चंद्रशेखर राव, ममता बनर्जी, डीएमके और एडीएमके से बातचीत शुरू हो चुकी हैअजीत जोगी ने कहा कि बीजेपी से हमारी कोई बात नही, लेकिन अगर वो थर्ड फ्रंट को नकारती है तो आने वाली 2019 चुनाव में जनता उन्हें जवाब देगी। जोगी ने कहा कि इसमें उन दलों को जगह मिली है जो न तो भाजपा से जुड़़े और न कांग्रेस से। आने वाले लोकसभा चुनाव में क्षेत्रीय पार्टी के गठबंधन होगा और मैं देश के लिए इसे जरूरी मानता हूं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आंचलिक पार्टियों से कमजोर हो गई है और राजनीति में सब कुछ संभव है। उन्होंने कहा कहा कि लेफ्ट, बसपा से गठबंधन नहीं होगा, कांग्रेस और बसपा मिलकर लड़ेगी तो हमारे लिए फायदा ही होगा।

error: Content is protected !!