तखतपुर विधायक व पुत्र ने दी थाना प्रभारी को जान से मारने की धमकी

०० भयभीत थाना प्रभारी ने पुलिस अधीक्षक को लिखा पत्र कहा नहीं कर पाऊंगा काम

०० थाना प्रभारी का आरोप हर काम में तखतपुर विधायक करते हैं

संजय बंजारे

तखतपुर-कोटा| पिछले 15 सालों से छत्तीसगढ़ में लगातार  सत्ता सुख भोग रही भाजपा के मंत्री विधायक नेता बेलगाम होते जा रहे हैं,ताजा मामला तखतपुर विधायक और संसदीय सचिव राजू सिंह क्षत्री,और उनके पुत्र और समर्थकों पर तखतपुर थाना प्रभारी वाय.एन.शर्मा के साथ अश्लील गाली गलौच करने के साथ ही उन्हें जान से मारने की धमकी देने के अलावा उनकी गाड़ी में तोड़फोड़ करने का आरोप लगा है। आरोप तखतपुर के किसी जनप्रतिनिधि  या आम नागरिक ने नहीं लगाये बल्कि तखतपुर थाना प्रभारी वाय.एन.शर्मा ने लगाया है,उन्होंने बिलासपुर पुलिस अधीक्षक को इसके संबंध में पत्र लिखा है,साथ में उन्होंने उस तखतपुर थाना में काम करने में असमर्थता दिखाते हुए उन्हें वहां से हटाने की मांग तक कर डाली है|

थाना प्रभारी ने पुलिस अधीक्षक बिलासपुर को लिखे पत्र में संसदीय सचिव राजू सिंह क्षत्री के करतूतों का ब्यौरा भी लिखा है,जिसके अनुसार घटना 1 मार्च की है,थाना प्रभारी को पुराना बस स्टैंड में स्थित एक होटल में दो लड़को द्वारा बैठकर शराब पीने की जिद पर होटल संचालक के साथ मारपीट की सूचना मिली,सूचना मिलने पर उन्होंने पेट्रोलिंग पार्टी को मौके पर भेजा, मौके पर पहुंची पेट्रोलिंग पार्टी ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उन्हें थाना लेकर पहुंची जहां दोनों आरोपियों के खिलाफ प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत उन पर कार्रवाई की जाने लगी,उसी दौरान स्थानीय विधायक के पुत्र विक्रम सिंह क्षत्री ने फोन कर दोनों को अपना कार्यकर्ता बताते हुए छोड़ने के लिए कहा लेकिन थाना प्रभारी ने दोनों आरोपियों को छोड़ने से इंकार कर दिया, जिस पर विधायक पुत्र ने उनके साथ गाली गलौच की, कुछ देर बाद विधायक राजू सिंह क्षत्री ने थाना प्रभारी को फोन कर अश्लील गालियां देते हुए अपनी लायसेंसी बंदूक से गोली मारने की धमकी दी, थाना प्रभारी का थाने में ना मिलने से विधायक अपने पुत्र और कुछ समर्थकों के साथ उनके सरकारी आवास पहुंचे और घर के सामने खड़ी कार पर ईंट पत्थर से पथराव कर कार को क्षतिग्रस्त कर दिया। थाना प्रभारी वाय.एन. शर्मा का का कहना है, कि पूर्व में कई मामलों पर कार्रवाई ना करने का स्थानीय विधायक राजू सिंह क्षत्री का हस्तक्षेप रहा है,अपराधिक मामलों पर कार्रवाई ना करने के लिए दबाव बनाया जाता था। फिलहाल इस पूरे मामले में स्थानीय विधायक व संसदीय सचिव राजू सिंह क्षत्री से संपर्क कर उनका पक्ष जानने की कोशिश की गई लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

पुलिस अधीक्षक को लिखा यह आवेदन पत्र :- निवेदन है कि मैं वर्तमान में थाना प्रभारी वाय.एन.शर्मा तखतपुर के पद पर पदस्थ हूं,मेरी पदस्थापना के बाद से ही स्थानीय तखतपुर विधायक राजू सिंह क्षत्री द्वारा निरंतर छोटे-छोटे मामलों में भी हस्तक्षेप कर आरोपियों को छोड़ने एवं कार्रवाई ना करने का दबाव बनाया जाता था, दिनांक 1 मार्च 2018 को पुराना बस स्टैंड में राजू देवांगन पिता सोमारू देवांगन के होटल में दो लड़कों द्वारा शराब पीने के लिए बैठने की जिद की जा रही थी,होटल मालिक द्वारा मना करने पर उसके साथ गाली-गलौज और मारपीट करने लगे,हरिभूमि अखबार के संवाददाता टेकचंद काडा द्वारा सूचना दी गई कि दो लड़के विवाद कर रहे हैं,सूचना पर पेट्रोलिंग पार्टी को मौके पर भेजा गया,दोनों लड़कों को थाने लाया गया पूछताछ पर अपना नाम वीरेंद्र साहू पिता पंचराम साहू ग्राम पकरिया तथा विशाल सूर्यवंशी पिता राजेश सूर्यवंशी, जरहाभाठा का होना बताया दोनों पर प्रतिबंधात्मक कारवाई करने हेतु प्रधान आरक्षक लेखक को बताया गया।रात को 9:30 बजे के आसपास शासकीय मोबाइल पर विधायक पुत्र विक्रम उर्फ सोनू क्षत्री द्वारा अपने मोबाइल 9522651000 से फोन आया जिसमें उनके द्वारा बोला गया कि ये दोनों लड़के मेरे कार्यकर्ता हैं,उनको छोड़ दो मैंने निवेदन किया कृपया होली तक हस्तक्षेप ना करें,इसी बात पर नाराज होकर उनके द्वारा मां-बहन की अश्लील गालियां दी गई उसके कुछ देर बाद माननीय विधायक ने शासकीय फोन पर मां की अश्लील गाली देते हुए तू कहां है, मैं थाना आ रहा हूं मैंने कहा कि क्या बात गांव तरफ हूं,बोले रुक मैं वहीं आ रहा हूं तेरे को जिंदा नहीं छोडूंगा मेरे पास लाइसेंसी हथियार है,लेकर आ रहा हूं तेरे को गोली मारूंगा,बाद में मुझसे संपर्क ना होने के कारण विधायक राजू सिंह क्षत्री उनके लड़के सोनू उर्फ विक्रम सिंह क्षत्री तथ आयुष ठाकुर मनीष यादव एवं अमित सिंह ठाकुरद्वारा मेरे आवास पर खड़ी कार CG 04 HK 9936 को ईट पत्थर से जबरदस्त क्षतिग्रस्त कर दिया है। घटना से मैं बहुत भयभीत हूं तथा थाना तखतपुर में काम करने में असमर्थ हूं,कृपया मुझे यहां से हटाकर उपरोक्त आरोपियों के विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही करने का कष्ट करें।

 

फिलहाल इस पूरे मामले में पुलिस अधीक्षक बिलासपुर का कहना है,कि इस पूरे मामले में नियमानुसार कारवाई की जाएगी क्योंकि मामला थाना प्रभारी व थाने से जुड़ा हुआ है ,इसलिए जाँच उपरांत ही कार्यवाही की जाएगी फिलहाल तखतपुर थाने में सब इंस्पेक्टर किरण राजपूत को प्रभार दे दिया गया है।

 

error: Content is protected !!