शिकायत के बाद भी नहीं हुई सरपंच सचिव पर कार्यवाही ग्रामीणों में भारी रोष

 

के नागे (बालोद) एक ओर पूरा देश भ्रष्टाचार के खिलाफ मोर्चा खोल कर सड़क की लड़ाई लड़ रहे हैं वही जिले के गुणडरर्देही विकास खंड के ग्राम पंचायत खल्लारी में पंचायत पदाधिकारियों के द्वारा खूलेआम भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया जा रहा है जिससे परेशान हो कर ग्राम खलारी की सैकड़ों ग्रामीणों ने बालोद जिला के कलेक्टर को ग्राम के सरपंच सचिव के खिलाफ भारी अनियमितता का आरोप लगाते हुए ज्ञापन सौंपा शासन के महत्वपूर्ण योजना में से जैसे स्वच्छता संबंधी शौचालय निर्माण संबंधी प्रधानमंत्री आवास योजना संबंधी अनेक तरह के समस्याओं से अवगत कराते हुए जिला कलेक्टर से कार्यवाही की मांग की वैसे तो क्षेत्र के कई गांव में शासन द्वारा बनवाए जा रहे प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत लाभार्थियों से बड़े पैमाने पर अवैध वसूली की जा रही है । जिससे प्रधानमंत्री योजना के तहत बन रहे आवास के मानक तथा उसके गुणवत्ता में कमी आ सकती है। आलम यह है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लाभार्थियों के पैसे में से स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं ब्लाक कर्मियों की हिस्सेदारी लगभग तय है। जिससे लाभार्थियो के किस्त से ही बैंक में ये लोग ले लेते हैं । इसी तरह का मामला ग्राम पंचायत खलारी जनपद पंचायत गुंडरदेही जिला बालोद प्रकाश में आया है कुछ ग्रामीणों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताते हैं कि जनप्रतिनिधि हिस्सा मांगते हैं इसकी शिकायत कई बार लाभार्थियों ने जनपद के उच्च अधिकारियों से की लेकिन स्थानीय स्तर के प्रतिनिधि अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहे हैं पूरा बालोद जिला का हर विकासखंड हर एक गांव की यही कहानी है क्षेत्र के जागरूक नागरिकों ने लाभार्थियों से हो रहे अवैध धन उगाही को बंद करने की मांग की है ।

ग्राम खल्लारी निवासी नरेंद्र कुमार साहू का कहना है सरपंच सचिव की मनमानी बहुत दिनों से चली आ रही है कोई कुछ कहने पर बकायदा धमकी दिया जाता है देख लेने की झूठे मामले में फंसाने की।

मिथलेश साहू का कहना है कि सरपंच सचिव द्वारा बोला जाता है पंचायत हमारा है हम कुछ भी करें हितग्राही से पैसा ले या ना लें तुमको क्या उक्त सम्बन्ध में ग्राम पंचायत खल्लारी में सरपंच और सचिव से बात करने की कोशिश की गई मगर बात नहीं हो पाया।

error: Content is protected !!