करोड़पति बनने छापे नकली नोट तीन आरोपी गिरफ्तार

०० पुलिस गिरफत में आये आरोपियों ने किया खुलासा

रायपुर/महासमुंद| करोड़पति बनने का सपना देख रहे तीन युवकों ने पुलिस ने नकली नोटों के साथ गिरफ्तार किया है। युवक नकली नोट को बाजार में खपाने के इरादे से घूम रहे थे। तभी पुलिस ने मुखबीर की सूचना के बाद दबोच लिया। एसपी संतोष कुमार सिंह ने तीनों को गिरफ्तार इस गिरोह का पर्दाफाश किया। हाल ही जशपुर में पुलिस ने 200 के नकली नोट बरामद किया था।

मिली जानकारी के अनुसार करते हुए एसपी संतोष कुमार सिंह बताया कि महासमुंद थाना क्षेत्र के ग्राम मोंगरा के एक फोटोकाफी दुकान में नकली नोट छापने का कार्य किया जा रहा था। पुलिस मुखबीरों से नकली नोटो के कारोबारी के बारे में जानकारी मिली थी। जिसके आधार पर आज छापामार कार्रवाई की गई। आज पुलिस ने बाजार सहित अन्य क्षेत्रों में ग्राहक बनाकर युवकों की दबोचने की फिराक में घूम रहे थे। इस दौरान पुलिस ने एक आरोपी को पकडऩे के बाद उसे दो और साथियों को गिरफ्तार कर लिया।पुलिस ने बताया कि द्वारिका साहू, अखिलेश ध्रुव और बेलसोंडा कुंदन धीवर जल्द से जल्द करोड़पति बनने के चक्कर में नकली नोट छापने और बाजार में चलाने का करोबार चला रहे थे। तीनों शराब दुकान, पेट्रोल पंप और ग्रामीण क्षेत्र में नकली नोट खपाए जाने की सूचना पर पुलिस उक्त दुकान पर नजर रखी हुई थी। पुलिस ने 55 हजार 800 रुपए नकली नोट, कम्प्यूटर, प्रिंटर आदि बरामद किया। इस मामले में मोंगरा के तीनों आरोपी के खिलाफ धारा 489 के तहत गिरफ्तार किया गया।

दो पहले जशपुर में हुआ 200 नकली नोटों का पर्दाफाश :- जशपुर के फरसाबहार पुलिस ने एक ही नंबर के 200 रुपए के 190 नोटों के साथ ओंकार यादव (29) निवासी ढ़ोढ़ाहागांव थाना सीतापुर जिला सरगुजा और सुरेश श्रीवास (24) निवासी कोडकेलखजरी थाना बागबहार जिला जशपुर को गिरफ्तार है। फरसाबहार पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि दो व्यक्ति बाइक से नकली नोट लेकर फरसाबहार क्षेत्र में खपाने के लिए घूम रहे हैं। सूचना पर पुलिस ने एसपी व एसडीओपी पत्थलगांव को इसकी सूचना दी। पुलिस ने मुखबिर के बताए हुलिए वाले दो व्यक्तियों को बाजार में देखा और गिरफ्तार कर लिया।

 

error: Content is protected !!